ताज़ा खबर

प्रधानमंत्री आवास योजना 2018 | Pradhan Mantri Awas Yojana In Hindi 2018

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन | प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी , ग्रामीण )  | Pradhan Mantri Awas Yojana In Hindi  (Gramin, Rural, Urban, Subsidy ,Apply, Application form 2018 | प्रधानमंत्री आवास ऋण योजना

प्रधानमंत्री आवास योजना या हाउसिंग फॉर आल योजना सेंट्रल गवर्नमेंट  द्वारा चलाई जाने वाली योजना है इस योजना का उद्देश्य भारत में गरीबों व्यक्ति को अपना स्वयं का पक्का घर उपलब्ध कराना है. यह हमारी केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली एक योजना है, जिसे साल 2015 में लांच किया गया था और इसका आगामी उद्देश्य साल 2022 तक भारत में विभिन्न शहरी और ग्रामीण क्षेत्रोँ में लगभग 2 करोड़ से अधिक पक्के घर उपलब्ध करवाना है. इस योजना का पहला भाग पिछले वर्ष 2017 में खतम हो चूका है और इसका दूसरा भाग भी शुरू हो चूका है. प्रशासन द्वारा इस योजना को दो भागों में विभाजित किया गया है, जिनके नाम क्रमशः प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण और प्रधान मंत्री आवास योजना शहरी है.

PM Awas Yojana Housing for all 2022 Scheme In Hindi

लांच डिटेल (Launch Detail) :

इस प्रधान मंत्री आवास योजना की नीव वर्ष 2015 में रखी गई थी जो की आने वाले वर्ष 2022 तक चलेगी. वास्तव में यह इंदिरा आवास योजना का संशोधित रूप है जिसे उन्नीसो पिच्यासी में उस समय के कार्यकालीन प्रधान मंत्री और इंदिरा गाँधी के बेटे राजीव गाँधी ने लांच किया था. इसके पश्चात् मुख्यतः प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण का प्रक्षेपण प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 20 नवंबर 2016 को किया गया था.

इस योजना को भारतीय क्षेत्रीय संरचना के आधार पर 2 भागों में स्टार्ट किया गया, ये दो भाग प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण और प्रधान मंत्री योजना शहरी है. इन दोनों भागों कि विस्तृत जानकारी निचे बताई जा रही है.

PM आवास योजना ग्रामीण (Pradhan Mantri Awas Yojana Gramin) :

मुख्य बिंदु (Key Features) :

  • उद्देश्य : प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण वास्तव में इंदिरा आवास योजना का संशोधित रूप है, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा लांच किया गया था. इस योजना का उद्देश्य भारत में ग्रामीण इलाकों में कच्चे और असुविधा युक्त घरो में रह रहें लोगों को तीन सालो 2016-2017 से 2018-2019 तक आधारभूत सुविधाओं से युक्त लगभग 1 करोड़ पक्के घर उपलब्ध कराना है.
  • घरों का आकार : वर्तमान में इस योजना के तहत बनाए जाने वाले घरों का आकार 25 स्क्वेयर मीटर है, जिसे की पूर्व में निर्धारित घरों के आकार 20 स्क्वेयर मीटर से बढाकर निर्धारित किया गया है.
  • दी जाने वाली राशि : इस योजना के तहत पहले मैदानी क्षेत्रोँ में 70,000 की राशि तय की गई थी जिसे वर्तमान में बढ़ाकर 1 लाख 20 हजार कर दिया गया है. वही इस योजना के तहत पहाड़ी इलाकों, मुश्किल क्षेत्रों में और आईएपी जिलों में पहले यह राशि 75,000 थी जिसे अब बढ़ाकर 1 लाख 30 हजार कर दिया गया है.
  • इस योजना में लगने वाला खर्चा केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा मिलकर किया जायेगा . मैदानी क्षेत्रोँ में इस शेयर की जाने वाली राशि का अनुपात 60:40 होगा वहीं उत्तर-पूर्व और हिमालय वाले तीन राज्यों जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में यह अनुपात 90:10 होगा.
  • इस योजना के तहत टॉयलेट के लिए 12000 रुपय की राशि का भुकतान स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण और उस एरिया में चलने वाले अन्य किसी सोर्स की तरफ से किया जायेगा.
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों की पहचान और उनका सिलेक्शन उनके पास घर की कमी, एसईसीसी-2011 डाटा के अनुसार सोशल स्तर और ग्राम सभा के द्वारा वेरीफाई करने पर किया जायेगा.
  • इस योजना के तहत यदि लाभार्थी चाहे तो 70 हजार रुपय का लोन भी ले सकता है जो की उसे विभिन्न फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट से अप्लाई करके लेना होगा.
  • लाभार्थी को संपूर्ण सुविधा जैसे टॉयलेट, पीने का पानी, बिजली, सफाई खाना बनाने के लिए धुआ रहित ईंधन, सोशल और तरल अपशिष्टो से निपटने के लिए इस योजना को अन्य योजनाओं से जोड़ा भी गया है.
  • इस योजना के तहत दी जाने वाली संपूर्ण राशि का भुकतान लाभार्थी के बैंक एकाउंट में किया जायेगा. इसके लिए आवश्यक है की लाभार्थी का यह एकाउंट आधार कार्ड से लिंक हो.

इस योजना के तहत लाभार्थी का चयन (Identification and Selection of Beneficiaries, Eligibility Criteria) :

इस योजना के तहत लाभार्थी के चुनाव में सत्यता और पारदर्शिता सरकार का मुख्य उद्देश्य है. इसके अंतर्गत इस बात का ध्यान रखा जायेगा की इस योजना के तहत लाभ केवल उन लोगों को मिले जिसे इसकी सच में जरुरत है. इस योजना में लाभार्थियों का चयन करने के लिए एसईसीसी SECC (सोशिओ इकोनोमिक कास्ट सेन्सस) का उपयोग किया जायेगा जिसका सत्यापन ग्राम सभा द्वारा किया जायेगा.

इस योजना के तहत चयन निम्न बिन्दुओं के आधार पर किया जायेगा :

  • पात्र लाभार्थी : इस योजना के तहत संपूर्ण भारत में कोई भी व्यक्ति जिसके पास स्वयं का घर नहीं है या जो कि 1, 2 या अधिक कमरों के कच्चे घर में रहता हो या जिसके घर में छत नहीं हो वह इस योजना के तहत लाभ ले सकता है. इस योजना का लाभ लेने के लिए यह आवश्यक नहीं है की लाभार्थी बीपीएल कार्ड होल्डर हो.
  • इस योजना के तहत निम्न व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जाएगी:
  • इस योजना के तहत प्रथम प्राथमिकता केटेगरी के अनुसार दी जाएगी, मतलब अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, माइनॉरिटीज और अन्य वर्ग के लोग इस योजना के तहत लाभ के प्रथम दावेदार होंगे.
  • इन चयनित प्राथमिक लोगों में से भी उन लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी जो कि एसईसीसी में डिफाइन कंपल्सरी इनक्लूसन के क्राइटेरिया को पूर्ण करते है. इस लिस्ट में दर्शाए सोसिओ इकनोमिक पैरामीटर SECC जिसके द्वारा प्राथमिकता (First Priority in PMAY) दी जाएगी निम्न है.
  1. वह परिवार जिसमे कोई भी सदस्य एडल्ट मतलब 16 से 59 आयु वर्ष में मध्य ना हो वह इस योजना का प्रथम पात्र होगा.
  2. वह परिवार जिसका मुखिया एक महिला हो और उसमे कोई भी एडल्ट मतलब 16 से 59 आयु वर्ष का सदस्य ना हो वह परिवार इस योजना के लिए प्रथम प्राथमिकता होंगे.
  3. वह परिवार जिसका 25 वर्ष अधिक का कोई भी सदस्य पढ़ा लिखा ना हो वह परिवार इस योजना के लिए प्राथमिकता होंगे.
  4. वह परिवार जिसका कोई सदस्य दिव्यांग हो और जिसमे कोई एडल्ट ना हो वह इस योजना के लिए प्राथमिकता होंगे.
  5. वह परिवार जिनके पास स्वयं की कोई जमीन उपलब्ध ना हो और जिनकी इनकम का अधिकतम भाग मजदूरी से आता हो वह इसके लिए प्राथमिकता होंगे.

घर का कंस्ट्रक्शन (Construction of House) :

  • कंस्ट्रक्शन के लिए प्राप्त राशि : प्रधानमंत्री आवास योजना के द्वारा जो भी व्यक्ति लाभ लेना चाहते है उन्हें अपने घर के कंस्ट्रक्शन के लिए सरकार की तरफ से पैसे दिए जायेंगे. यह सहायता मैदानी इलाकों में 1 लाख 20 हजार की होगी वहीं डिफिकल्ट एरिया, आईएपी यूनिट्स और हिमालय के राज्यों में यह सहायता राशि बडाकर 1 लाख 30 हजार की गई है. इसका मुख्य उद्देश्य इन सभी एरिया में पक्का घर उपलब्ध करवाना है.
  • पक्के घर से तात्पर्य : यहाँ पक्के घर से सरकार का तात्पर्य ऐसे मकानों से है जो आने वाले 30 सालों तक घर में रहने वालों की रक्षा विभिन्न मौसम और परिस्थियों से निपटने में कर पाये. इसके अलावा इस घर में आधारभूत सुविधाए जैसे बिजली, पानी और वाश एरिया आदि होना भी आवश्यक है.
  • घर की बनवाई : इस योजना के तहत घर की बनवाई के लिए 90 से 95 दिन के लिए अनस्किल्ड लेबर मनरेगा की तरफ से दिये जाते है. अगर घर का मालिक चाहे और तो वह खुद भी अपने घर को बना सकता है और वह खुद अपने आप को मनरेगा के अंतर्गत 90 दिनों का वेतन पाने के लिए इनरोल करवा सकता है. अगर मालिक स्वयं इसे बनाने में सक्षम नहीं है तो उसे मनरेगा की तरफ से अनस्किल्ड मजदूर प्रदान किये जायेंगे. और यह बनवाई घर के लिए दिये जाने वाले 1 लाख 20 हजार में शामिल नहीं होगी.
  • घर की बनवाई किसी कांट्रेक्टर के द्वारा नहीं की जाएगी : इस योजना के तहत यह नियम तय है की इसमे लाभार्थी को अपना घर स्वयं बनाना होगा . अगर इसमे किसी कांट्रेक्टर या एजेंट द्वारा कंस्ट्रक्शन पाया जाता है तो सरकार के पास इसे बिच में निरस्त करने का पुरा अधिकार होता है. यह घर किसी सरकारी विभाग या एजेंसी के द्वारा भी नहीं बनाया जा सकता इसमे केवल वही लोग भाग ले सकते है, जो की इस योजना के लिए ऑथोराइसड हो.
  • स्वच्छ भारत अभियान : ग्रामीण क्षेत्रोँ में इन पक्के घरो में टॉयलेट को बनवाना जरुरी है, और अपने इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए गाँवो में घरो के निर्माण के वक्त स्वच्छ भारत अभियान की तरफ से टॉयलेट निर्माण के लिए 12 हजार की राशि दी जाएगी.
  • मकान का साइज़ : इस योजना के अनुसार बनाए जाने वाले घरों का साइज भी निश्चित है. सरकार द्वारा यह साइज़ 25 स्वेयर मीटर तय किया गया है जिसमे कुकिंग और हाइजीनिक एरिया भी शामिल है.

किये जाने वाले कार्यो और मजदूरों की मेपिंग (Mapping of Field Function and Mason) :

  • इस योजना के तहत आपको घर बनाने के आर्डर मिलने से पहले बीडीओ या ब्लाक लेवल ऑफिसर जो की राज्य सरकार से मान्यता प्राप्त होते है वह लाभार्थी का प्रधानमंत्री आवास योजना पर अपडेट किये हुए फोटो का सत्यापन करते है. यह फोटो लाभार्थी द्वारा अपनी जगह के सामने जहाँ वह घर बनाना चाहता है वहाँ खड़े होकर लिया जाता है. अगर लाभार्थी पहले से बने हुए घर को पुनः ठीक करना चाहता है तो उसे यह बात भी एप के जरिये क्लियर करनी होगी.
  • अगर किसी परिस्थिति में लाभार्थी को जगह भी सरकार की तरफ से या अन्य किसी पब्लिक लैंड जैसे पंचायत की जमीन, कम्युनिटी की जगह या अन्य किसी लोकल अथॉरिटी के द्वारा प्रदान की जाती है, तो ऐसी जगह पर बिजली और पानी की सुविधा पहले से प्राप्त होना तय होता है. सरकार ने यह पहले ही सुनिश्चित किया है कि वर्तमान वेट लिस्ट के फाइनल होने के बाद ऐसे लोगों की जरुरत पर भी ध्यान दिया जायेगा जिनके पास स्वयं की जगह उपलब्ध नहीं है.

लाभार्थी की लिस्ट जारी करना (Issue of Sanction Letter to Beneficiary) :

  • इस योजना के तहत अंतिम सूची एमआईएस-आवास सॉफ्टवेयर में रजिस्टर हुए आवेदको के नाम के आधार पर बनाई जाती है. इस योजना में रजिस्टर करते वक्त आवेदक को अपना नाम, बैंक एकाउंट डिटेल, आधार कार्ड नंबर और मनरेगा कार्ड नंबर रजिस्टर करना आवश्यक होता है. इसके अलावा आवेदक को अपना मोबाइल नंबर भी देना होता है.
  • रजिस्ट्रेशन के बाद आवेदक की डिटेल और बैंक एकाउंट का वेलिडेशन किया जाता है. इसके बाद प्रत्येक लाभार्थी के लिए सेनसेशन लेटर व्यक्तिगत रूप से बनाया जाता है और प्रत्येक के लिए एक अलग प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण आईडी और क्विक रेस्पोंसे कोड जनरेट किया जाता है. इस योजना के तहत अलोटमेंट पति व पत्नी दोनों के सयुक्त नाम पर किया जाता है, परंतु अगर आवेदक कोई विधवा महिला, अविवाहित महिला या सेपरेट व्यक्ति हो तो यह जरुरी नहीं होता. इस स्थिति में स्टेट में केवल महिलाओं के नाम पर भी अलोटमेंट किये जातें है. अगर किसी स्थिति में यह आवेदन किसी दिव्यांग के नाम पर किया गया है तो यह अलोटमेंट भी केवल उस व्यक्ति के नाम पर ही किया जायेगा.
  • लाभार्थी को उसके चयन की जानकारी उसके द्वारा दिये गए मोबाइल नंबर पर एसएमएस करके प्रदान की जाती है. लाभार्थी यह सेंसेशन आर्डर ब्लाक ऑफिस पर जाकर या अपनी प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण की आईडी का उपयोग करके इसकी ऑफिसियल वेबसाइट से भी निकाल सकता है.
  • लाभार्थी को सेंसेशन लेटर मिलने के बाद 12 महीनों में उसके द्वारा घर का निर्माण करना आवश्यक है. अगर इस प्रक्रिया में किसी तरह की देरी होती है तो यह प्रोजेक्ट में कोम्प्लिकेशन उत्पन्न करता है.

लाभार्थी को पैसे प्राप्त होना (Release Instalment to Beneficiary) :

  • इस योजना के तहत लाभार्थी को उसका पहला इंस्ट्रूमेंट सेक्शन लेटर इशू होने के 7 दिन के अंदर मिल जाता है. यह इंस्टोलमेंट लाभार्थी को उसके बैंक एकाउंट में डायरेक्ट ट्रांसफर किया जाता है. इसके बाद सरकार द्वारा उस बैंक से यह सुनिश्चित किया जाता है कि वह यह जानकारी एसएमएस के द्वारा लाभार्थी को उसके मोबाइल में पंहुचाएगी.
  • फाइनेंसियल ईयर की शुरुआत में यह तय किया जाता है की लाभार्थी को कितने इन्स्टॉलमेंट में और कितने पैसे दिये जायेंगे. इसकी राशि कम से कम तीन इन्स्टॉलमेंट में दी जाती है और घर के कंस्ट्रक्शन की 7 स्टेज होती है.
  1. घर के लिए मंजूरी मिलना (House Sanction)
  2. आधार (Foundation)
  3. नीव (Plinth)
  4. खिड़की दरवाजें (Windowsill)
  5. छत (Lintel)
  6. (Roofcast)
  7. पुरा घर बनकर तैयार (Completed)
  • घर के लिए पहली इंस्टालमेंट तो घर के लिए मंजूरी मिलते ही मिल जाती है परंतु दूसरी और तीसरी इंस्ट्रूमेंट के लिए घर के कंस्ट्रक्शन पर नजर रखी जाती है. और दूसरी इन्सटॉलमेंट फाउंडेशन और नीव के बनने के बाद मिलती है.
  • इसके बाद तीसरी और अंतिम इन्सटॉलमेंट के लिए चौथी, पाँचवी या छट्वी में से किसी भी स्टेज की मैपिंग करके पैसा लाभार्थी के एकाउंट में ट्रांसफर किया जाता है.

इस योजना के तहत मिलने वाली कुल राशि (Total Amount for Beneficiary) :

  • इस योजना के तहत मैदानी क्षेत्रोँ में 1 लाख 20 हजार की राशि सरकार की तरफ से लाभार्थी को दी जाएगी, जो की एक सब्सिडी होगी.
  • इसके अलावा इसमे स्वच्छ भारत मिशन की तरफ से 12 हजार रुपय टॉयलेट के निर्माण के लिए दिये जायेंगे.
  • घर की बनाई के लिए 18 हजार रुपए की राशि मनरेगा की तरफ से मिलेगी. जो की लाभार्थी स्वयं भी 90 दिन मजदूरी करके प्राप्त कर सकता है.
  • इन सबके अलावा अगर लाभार्थी चाहे तो एक्स्ट्रा पैसो के लिए 70 हजार का लोन बैंक से ले सकता है. इसके लिए विभिन्न बैंक और फाइनेंसियल संस्थाओं में यह सुविधा उपलब्ध है.

इस योजना के तहत प्राप्त कुल राशि “2,20,000” = 1,20,000(PMAY-G) + 18000(MGNAREGA) + SBM-G (12,000)+ Loan (70,000)

इस योजना के लिए आवेदन कैसे करे (How to Apply for PMAY-G) :

इस योजना का लाभ लेने के लिए ग्रामीण व्यक्तियों को केवल जन सेवा केंद्र में जाकर एक फॉर्म या ब्लाक ऑफिस में जाकर एक फॉर्म भरना होता है. इसके बाद ग्राम पंचायत द्वारा लाभार्थियों चुनाव किया जाता है और अंतिम लिस्ट उच्च अधिकारियों द्वारा तैयार की जाती है.

प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण में साल 2018 -19 की लिस्ट में अपना नाम कैसे चेक करे (How to Check your Name in PMAY-G List) :

जिन लोगों ने पूर्व में इस योजना के लिए फॉर्म भर रखे है उनका नाम इस योजना के लिए चयनित हो चूका है. अगर आप अपना नाम इस लिस्ट में चेक करना चाहतें है तो यह प्रक्रिया फॉलो करे :

  • अपना नाम इस लिस्ट में चेक करने के लिए आपको सर्वप्रथम इसकी ऑफिसियल साईट http://iay.nic.in/netiay/home.aspx पर जाना होगा. इस लिंक पर क्लिक करते ही आप इसका ऑफिसियल पेज देख पाएंगे.
  • अब अपना नाम यहाँ सर्च कर सकते है. इसके लिए आपको रिपोर्ट पर जाकर क्लिक करना होगा. इस पर क्लिक करते ही आप अगले पेज पर पंहुच जायेंगे.
  • यहाँ पर आपको ए ब्लाक में फिजिकल प्रोग्रेस रिपोर्ट में निचे की और छटवे नंबर के ऑप्शन रजिस्ट्रेशन एंड सेंग्शन डिटेल वाले ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • अब इसके बाद आपको अगले पेज पर योजना सिलेक्ट करनी होगी और आपको अपने लिए प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण का चयन करना होगा.
  • इस पर क्लिक करते ही अगले पेज पर सारे राज्यों की सूची आपके सामने होगी जिसमे से आपको अपने राज्य का चयन करना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने राज्यों के सभी जिलों की सूची उपलब्ध होगी जिसमे से आपको अपने जिले का चयन करना है.
  • अपने जिले के चयन के बाद आपके सामने अपने जिले के सभी ब्लाक की लिस्ट उपलब्ध होगी जिसमे से आपको अपने ब्लाक का चयन करना होगा.
  • इसके बाद आपके सामने आपके ब्लाक की ग्राम पंचायत की लिस्ट उपस्थित होगी जिसमे से आपको अपनी ग्राम पंचायत का चयन करना होगा और उसके नीचे लिखे बेनेफिसिअरी रजिस्टर और हाउस सेक्शन में दी गयी संख्या पर आपको क्लिक करना होगा.
  • इसके बाद इस योजना में चयनित लोगों की लिस्ट आपके सामने होगी जिसमे से आप अपना नाम खोज सकते है. अगर आपका नाम इस योजना के लाभार्थी में चयनित हुआ है तो वह यहाँ जरुर उपस्थित होगा.

प्रधान मंत्री आवास योजना शहरी  PMAY(U) (Pradhan Mantri Awas Yojana Urban) 

इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य साल 2022 तक शहरोँ में रहने वाले गरीब व्यक्तियों और झोपड़पट्टी में रहने वालें व्यक्तियों को स्वयं का घर उपलब्ध करवाना है. सरकार अपने इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए निम्न बिन्दुओ के तहत कार्य करेगी.

  • झोपड़पट्टीवासियों का पुनर्वास करवाकर
  • क्रेडिट लिंक सब्सिटी उपलब्ध करवाकर कमजोर वर्ग को आवास उपलब्ध करवाने का प्रयास किया जायेगा
  • सार्वजनिक और निजी क्षेत्रोँ में साझेदारी के साथ अफोर्डेबल हाउस उपलब्ध करवाकर
  • लाभार्थी के घर के निर्माण के लिए सब्सिडी उपलब्ध करवाकर

लाभार्थी (Beneficiaries):

  • इस योजना के अंतर्गत शहरी लाभार्थियों की श्रेणी में सर्वप्रथम झोपडपट्टीयों को शामिल किया गया है. किसी शहर का ऐसा हिस्सा जहाँ लगभग 300 व्यक्ति या 60-70 परिवार बिना बुनियादी सुविधा जैसे बिजली, वाश एरिया और गंदगी भरे माहोल में गलत तरीको से बने मकानों में अपना जीवन व्यतीत करतें है उसे झोपड़पट्टी का नाम दिया गया है. इस योजना के तहत सरकारी प्रयासों से इन घरो में रहने वाले लोगों को स्वयं का और बुनियादी सुविधाओं से युक्त आवास उपलब्ध करवाने का प्रयास किया जा रहा है.
  • इसके अतिरिक्त शहरी क्षेत्र में लाभार्थियों की सूची में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS, Economic weaker section), कम आय वाले समूह (LIGs, Low income Groups) और माध्यम आय समूह (MIG, Middle income groups) शामिल है. वे परिवार जिनकी आय 3 लाख से कम है उन्हें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग कि श्रेणी में, जिनकी आय 3 से 6 लाख के मध्य है उन्हें कम आय वाले समूह में और जिनकी आय 6 से 18 के मध्य है उन्हें माध्यम आय वर्ग में रखा गया है. इनमें से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग इस योजना का संपूर्ण लाभ ले सकतें है वहीं एल आई जी और एम आई जी वर्ग केवल क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम का लाभ लेने के पात्र होंगे.
  • इस योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और एलआईजी और एमआईजी कि पहचान करने के लिए व्यक्ति को सेल्फ सर्टिफिकेट या एफिडेविट अपनी लोन एप्लीकेशन के साथ जमा करना होगा.
  • एक लाभार्थी के संपूर्ण परिवार में पति, पत्नी अविवाहित बेटे और बेटियां शामिल होंगी. इस योजना के अंतर्गत लाभ लेने के लिए यह आवश्यक है कि लाभार्थी के परिवार में लाभार्थी या अन्य किसी के भी नाम भारत में कही पर भी कोई पक्का घर रजिस्टर्ड ना हो.

योजना के विभिन्न फेज (Different Phase of Scheme) :

इस योजना के लांच होने के बाद से लेकर साल 2022 तक इसमें 3 फेज में काम किया जायेगा ये तीन फेज इस प्रकार है.

  • फेज I में अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक इस योजना के अंतर्गत चयनित राज्यों के 100 शहरो में कार्य किया गया.
  • इसके बाद इस योजना का फेज 2 अप्रैल 2017 से शुरू होकर मार्च 2019 तक चलेगा. इसमें भारत के अन्य 200 शहरोँ को भी शामिल किया जायेगा. और वहाँ के लाभार्थियों का चयन कर उन्हें लाभ दिलाये जायेंगे.
  • इस योजना का तृतीय फेज अप्रैल 2019 से चालू होकर मार्च 2022 तक चलेगा जिसमें अन्य बचे हुए शहरों को भी कवर कर संपूर्ण भारत में सबके पास स्वयं का आवास उपलब्ध करवाने की कोशिश की जाएगी.

योजना के विभिन्न भाग (Different Parts of Scheme)

इस योजना के अंतर्गत शहरोँ में तीन तरीको से अलग अलग इनकम ग्रुप वाले लोगों को अपना स्वयं का घर उपलब्ध करवाने कि कोशिश कि जा रही है. इस अलग अलग इनकम ग्रुप के आधार पर विभिन्न भागों में विभाजित लोगों को मिलने वाली सुविधाए भी निम्न होगी. निचे पॉइंट्स में इन लोगों को मिलने वाली सुविधा का विस्तार से वर्णन किया गया है.

  1. “इन-सीटू” स्लम रिडेवलपमेंट (In-situ Slum Redevelopment) : यहाँ इन-सीटू से तात्पर्य मुख्य वास्तविक स्थान से है. और यह इन-सीटू स्लम रिडेवलपमेंट प्रधानमंत्री आवास योजना का एक महत्वपूर्ण भाग है. भारत के शहरी क्षेत्रोँ में झोपड़पट्टीयों में रहने वालें लोगों को सभी जरुरी सुविधाए उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से यह योजना का शुरुआत की गई है. इसके अंतर्गत झोपड़पट्टीयों कि जगह को उपयोग करकें और प्राइवेट संस्थानों कि भागीदारी के साथ इन झोपड़पट्टीयों का पुनर्विकास किया जायेगा और इसे आधारभूत सुविधा से युक्त रहने लायक स्थान में परिवर्तित किया जायेगा. इस तरह से जिस जगह पर झोपड़पट्टीयां बनाई गई है उसका उपयोग कर सेनेटरी सुविधा से युक्त, सुलभ और बेहतर घर बनाकर लोगों को उपलब्ध कराये जायेंगे. सरकारी या निजी जमीन पर उपलब्ध झोपडपट्टीयों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जायेगा और इस योजना में शामिल निजी भागीदारो को विभिन्न राज्यों में खुली बोली लगाकर चुना जायेगा.

इस योजना के तहत लाभार्थियों का योगदान केंद्र सरकार के स्थान पर राज्य सरकार द्वारा तय किया जायेगा. इसमें कटऑफ की पात्रता भी राज्य सरकार द्वारा तय की जाएगी. और केंद्र शासित प्रदेशो में यह अधिकार वहा कि सरकार के पास होंगे. यह योजना संबंधित स्थानों से झोपड़पट्टी में रहने वाले लोगों से परामर्श के बाद और उनके सहयोग से प्रारंभ की जाएगी.

“इन सीटू स्लम” के मुख्य बिंदु और लाभ :

  • इस योजना को और अधिक आसान बनाने के लिए राज्य सरकारे या केंद्र शासित प्रदेशो में सरकार के द्वारा इसमें एडिशनल फ्लोर एरिया रेश्यो, फ्लोर स्पेस इंडेक्स और हस्तांतरणीय विकास अधिकार प्रदान किये जाते है.
  • राज्य में मौजूद सरकार द्वारा झोपड़पट्टी से पुनर्निवास के लीये प्रत्येक घर को 1 लाख रूपए तक का अनुदान दिया जा सकता है. यह राशी उन सभी लाभार्थियों को मिलेगी जो इस योजना के अंतर्गत योग्य होंगे. यह 1 लाख रूपए एक औसत राशी से अंतिम निर्णय राज्य में मौजूद सरकार द्वारा लिया जायेगा.
  • इन बन रहें घरो का लाभार्थियों को पूर्णत स्वामित्व दिया जायेगा या यह घर लीज पर दिए जायेंगे यह अधिकार भी पूर्ण रूप से राज्य सरकार के पास होगा.
  • इस योजना के तहत बने घरो में दो घटक होंगे: झोपड़ी पुनर्निवास घटक और मुफ्त बिक्री घटक. झोपड़ी पुनर्निवास घटक में बुनियादी सुविधाओं के साथ एक घर मिलेगा, और मुफ्त बिक्री घटक में स्लम डेवलपर्स ओपन मार्केट में घरो को बेचने में सक्षम होंगे.
  • जब तक झोपड़पट्टी के एरिया में विकास का कार्य चलेगा तब प्राइवेट डेवेलपेर्स झोपड़पट्टी में रहने वाले व्यक्तियों को अल्पकालिक आवास कि व्यवस्था करके देंगे.
  1. क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम (Credit Link Subsidy Scheme)

इस योजना का एक अन्य भाग क्रेडिट लिंक सब्सिडी योजना के द्वारा अफोर्डेबल हाउस उपलब्ध करवाना है. इसके अंतर्गत भी अलग-अलग इनकम ग्रुप में लोगों को विभाजित किया गया है. इसका विवरण इस प्रकार है :

आर्थिक रूप से कमजोर (EWS) और कम आय वाले समूह (LIG) के लिए क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम:

प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत शहरोँ में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर और कम आय वाले समूहों के लिए सरकार ने क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम को परिचित करवाया.

मुख्य बिंदु और लाभ :          

  • इस योजना के अंतर्गत ईडब्ल्यूएस और एलआईजी वर्ग के लोगों के लिए घर उपलब्ध करवाने के लिए इन्हें विभिन्न बैंकों और अन्य फाइनेंसियल इंस्टीट्यूट के द्वारा 6.5 प्रतिशत की दर से 20 सालो कि समय अवधी के लिए ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा. ताकि उन्हें अपना स्वयं का घर बनवाने में दिक्कत ना हो.
  • इस योजना के तहत लाभार्थी को यह सब्सिडी 6 लाख के लोन अमाउंट पर ही दी जाएगी इसके अतिरिक्त यदि लाभार्थी अन्य लोन लेता है तो वह उसे वर्तमान में मौजूद ब्याज दरो पर ही अदा करना होगा.
  • इस योजना के अंतर्गत पहले लाभार्थी को लोन का पूरा इएमआई ऋण खाते के माध्यम से बैंक या फाइनेंसियल इंस्टिट्यूट में जमा करना होगा उसके पश्चात् उस विभाग द्वारा मासिक किश्त का अमाउंट काटकर सब्सिडी कि राशि वापस लाभार्थी के खाते में ट्रांसफर की जाएगी.
  • केंद्र के नियम के आधार पर यह आवास घर के महिला मुखिया सदस्य या घर में पति व् पत्नि के संयुक्त नाम पर होगा. केवल घर में बालिग महिला कि अनुपस्थिति में ही यह घर घर के पुरुष सदस्य के नाम पर हो सकता है.
  • इस योजना के तहत बन्ने वालें घरो में कमरों के अतिरिक्त रसोई शौचालय और बिजली पानी कि आधारभूत सुविधा होना अनिवार्य है.
  • इडब्ल्यूएस ग्रुप के अंतर्गत लाभ लेने वाले व्यक्तियों कि वार्षिक आय 3 लाख तक होना चाहिए तभी वे इस योजना के पात्र होंगे. और एलआईजी के अंतर्गत लाभ लेने वाले व्यक्तियों के वार्षिक आय 3 से 6 लाख तक होना चाहिए तभी वे इसके पात्र होंगे.
  • इस योजना के तहत इडब्ल्यूएस ग्रुप में बनने वाले घरो का एरिया 30 स्क्वायर मीटर होना चाहिए और इसी तरह एलआईजी ग्रुप के अंतर्गत बनने वाले मकानों के लिए एरिया 60 स्क्वायर मीटर होना चाहिए. अगर लाभार्थी चाहे तो इससे बड़े एरिया पर भी अपना घर बनवा सकता है परन्तु यूज़ सब्सिडी केवल 6 लाख के लोन अमाउंट पर ही मिलेगी.

इस योजना और इसमें मिलने वाले इंटरेस्ट और सब्सिडी का संपूर्ण वर्णन निचे टेबल के माध्यम से किया गया है जिससे आपको इसे समझने में आसानी होगी:

क्रमांक ग्रुप हाउस होल्ड कि वार्षिक आय होना चाहिए लोन अमाउंट जो सब्सिडी के लिए मान्य होगा इंटरेस्ट सब्सिडी इनिशियल किश्त सब्सिडी मिलने के बाद किश्त मासिक बचत वार्षिक बचत
1 इडब्ल्यूएस 0 से 3 लाख के मध्य 3,00,000 1,33,640 2895 1,605 1290 15,480
2 एलआईजी 3 से 6 लाख के मध्य 6,00,000 2,67,280 5790 3,211 2579 30,948

मध्यम आय वर्ग (MIG) के लोगों के लिए क्रेडिट लिंक सब्सिडी स्कीम :

मध्यम आय वर्ग (MIG) में वे लोग शामिल है जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय 6 लाख से 18 लाख के मध्य हो. इन मध्यम आय वर्ग के लोगों को भी उनकी आय के आधार पर दो वर्गों में विभाजित किया गया है, पहला वर्ग जिसे एमआईजी-I कहा गया है उसमे 6 लाख से 12 लाख तक के वार्षिक आय वालें लोग शामिल है, वहीं दूसरा वर्ग जिसे एमआईजी-II कहा गया है उसमें 12 लाख से 18 लाख तक के वार्षिक आय वालें लोग शामिल होंगे. अभी हाल ही में सरकार के द्वारा इस आय वर्ग के लोगों के लिए घरो के कारपेट एरिया में कुछ बदलाव किये गए है, इसका संपूर्ण वर्णन निचे पॉइंट्स में किया गया है.

मुख्य बिंदु और लाभ :

  • अभी हाल में सरकारी विभागों द्वारा की गई घोषणा के अनुसार इस योजना के अंतर्गत एमआईजी-I के लिए कारपेट एरिया का साइज़ 120 स्क्वायर मीटर से से बढ़ाकर 160 स्क्वायर मीटर कर दिया गया है वहीं एमआईजी-II के लिए कारपेट एरिया का साइज़ 150 स्क्वायर मीटर से बढाकर 200 स्क्वायर मीटर कर दिया गया है.
  • इस योजना के तहत एमआईजी-I के अंतर्गत आने वाले लाभार्थियों को 9 लाख तक की राशि लोन अमाउंट के रूप में 4 प्रतिशत इंटरेस्ट सब्सिडी पर 20 साल कि समयावधि के लिए दी जा सकतीं है. वहीं एमआईजी-II के अंतर्गत आने वाले लोगों को 12 लाख तक की राशि 3 प्रतिशत इंटरेस्ट सब्सिडी पर 20 साल तक के लिए उपलब्ध होगी.
  • इस प्रकार एमआईजी-I को इस योजना के तहत मिलने वाली कुल सब्सिडी 2,35,068 होगी वहीं एमआईजी-II के लिए यह सब्सिडी की राशि 2,30,156 होगी.
  • इस योजना के अंतर्गत पहले लाभार्थी को लोन का पूरा ईएमआई ऋण खाते के माध्यम से बैंक या फाइनेंसियल इंस्टीट्यूट में जमा करना होगा उसके पश्चात् उस विभाग द्वारा मासिक किश्त का अमाउंट काटकर सब्सिडी कि राशि वापस लाभार्थी के खाते में ट्रांसफर की जाएगी.
  • केंद्र के नियम के आधार पर यह आवास घर के महिला मुखिया सदस्य या घर में पति व् पत्नि के संयुक्त नाम पर होगा. केवल घर में बालिग महिला कि अनुपस्थिति में ही यह घर घर के पुरुष सदस्य के नाम पर हो सकता है.

एमआईजी-I और एमआईजी-II को मिलने वाली सुविधाओं का संक्षिप्त वर्णन :

परिवार की वार्षिक आय इंटरेस्ट सब्सिडी ऋण कि अवधी उपलब्ध लोन का अमाउंट कारपेट एरिया वर्तमान इंटरेस्ट सब्सिडी
एमआईजी-I 6,00,001 से 12,00,000के मध्य  4 % 20 वर्ष 9,00,000 160 sq. m. 9% 2,35,068/-
एमआईजी-II 12,00,001    से 18,00,000 के मध्य  3 % 20 वर्ष 12,00,000 200 sq. m. 9% 2,30,156/-

अभी हाल ही में हुए अपडेट के अनुसार भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने किफायती घरों को बढ़ावा देने के लिए प्राइवेट सेक्टर ऋण (पीएसएल) के तहत होम लोन की सीमाएं बढ़ा दी हैं. अब 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरोँ में लोग 35 लाख तक का होम लोन प्राप्त कर पाएंगे, और 10 लाख से कम आबादी वाले क्षेत्रोँ में लोग 25 लाख तक का लोन लेने के पात्र होंगे. रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा किया गया यह संशोधन प्रधान मंत्री आवास योजना को गति देगा.

3.  पार्टनरशिप में अफोर्डेबल हाउस (Affordable Housing Through Partnership) :

प्रधानमंत्री आवास योजना का तीसरा भाग पार्टनरशिप के द्वारा अफोर्डेबल हाउस उपलब्ध करवाना है. इस प्रोजेक्ट का मुख्य उद्देश्य इडब्ल्यूएस हाउसेस जो कि विभिन्न राज्यों, शहरोँ के साथ पार्टनरशिप में बन रहें है उन्हें फाइनेंसियल सब्सिडी उपलब्ध करवाना है. इस अफोर्डेबल हाउस प्रोजेक्ट में बनने वाले घरो में से लगभग 35 प्रतिशत घर इडब्ल्यूएस वर्ग के लिए बनाये जा रहें है. और इसमें लाभार्थी को लगभग 1.5 लाख तक का फाइनेंसियल असिस्टेंस मिलेगा.

प्रधान मंत्री आवास योजना- शहरी के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply for Pradhan Mantri Awas Yojana-Urban / Application Process) :

भारत में मौजूद कोई भी व्यक्ति यदि प्रधान मंत्री आवास योजना का लाभ लेना चाहता है तो वह इसकी अधिकारिक वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/# के जरिए या जन सुविधा केन्द्रों में जाकर इसमें आवेदन कर सकता है.

जन सुविधा केंद्र में जाकर आवेदन की प्रक्रिया :

  • यदि आप इस योजना में अपना नाम दर्ज करवाना चाहतें है तो आपको सर्वप्रथम अपने नजदीकी जन सुविधा केंद्र में जाना होगा, और अपना आवेदन दर्ज करवाना होगा.
  • जब आप इस जन सुविधा केंद्र में जायेंगे तो आपको अपने साथ अपनी एक पासपोर्ट साइज़ फोटो और आधार कार्ड लेजाना अनिवार्य होगा. इसके आलावा आपको इस आवेदन के लिए 25 रूपए फीस भी जमा करनी होगी.
  • जब आपकी आवेदन कि प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी तो आपको वहाँ से एक रसीद प्रदान की जाएगी. इस रसीद में आपका फोटो और आपका आवेदन क्रमांक मौजूद होगा. इस आवेदन क्रमांक के जरिए आप अपने आवेदन कि स्थिति का पता लगा सकतें है.

प्रधान मंत्री आवास योजना कि अधिकारिक वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/# के माध्यम से आवेदन कि प्रक्रिया :

  • अगर आप इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना चाहतें है तो आपको सर्वप्रथम इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा. आप डायरेक्ट इस लिंक https://pmaymis.gov.in/# पर क्लिक करके भी वहाँ पहुच सकतें है.
  • जब आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर पंहुच जाते है तो आपको यहाँ उपर मौजूद सिटीजन असेसमेंट के ऑपशन पर जाकर अपना विकल्प चुनना होगा.
  • जब आप यह प्रक्रिया पूर्ण कर लेते है तो आप अगले पेज पर पंहुच जायेंगे अब आपको यहाँ अपना आधार नंबर डालकर चेक पर क्लिक करना होगा. और यदि आपके पास आधार नंबर नहीं है तो आप यहाँ आवेदन करने के लिए पात्र नहीँ होंगे.
  • जब आप यह प्रक्रिया पूर्ण कर लेंगे तो अगले पेज पर आपके सामने आवेदन फॉर्म मौजूद होगा. अब आपको यहाँ सभी जानकारी सही-सही भरना होगा.
  • इसके बाद जब आप फॉर्म सबमिट कर देते है तो आपके सामने आवेदन क्रमांक आएगा जिसे आप कही सेव करके रख ले क्योंकि ये आपको भविष्य में अपने आवेदन कि स्थिति जानने के लिए काम में आएगा.

प्रधान मंत्री आवास योजना में अपना नाम कैसे चेक करे / अपने आवेदन कि स्थति कैसे चेक करे How to Check Your Application Status :

यदि आपने प्रधानमंत्री आवास योजना में अप्लाई किया है तो आप इसकी ऑफिसियल वेबसाइट के जरिए अपने आवेदन कि स्थिति भी चेक कर सकतें है. अपने आवेदन कि स्थिति चेक करने की पूरी प्रक्रिया निचे पॉइंट्स में बताई गई है, जिससे आप अपना स्टेटस चेक कर पाएंगे :

  • इसके लिए भी आपको इसकी ऑफिसियल वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/# पर जाकर सिटीजन असेसमेंट के ऑपशन पर क्लिक करना होगा. अब आपको यहाँ उपस्थित चेक योर असेसमेंट स्टेटस ऑप्शन को सिलेक्ट करना होगा.
  • अब जो पेज खुलेगा वहाँ आपको बाई नाम, फादर नाम एंड आईडी टाइप और बाई असेसमेंट आईडी में से अपने विकल्प का चयन करना होगा.
  • आप जिस भी विकल्प का चयन करे उसके बाद अगले पेज में आपको संपूर्ण डिटेल भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा. और इस तरह आप अपना स्टेटस जान पाएंगे.

प्रधान मंत्री आवास योजना के लिए उपलब्ध टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर Toll-Free Helpline Numbers for PM Awas Yojana :

अगर आपके मन में इस योजना के संबंध में कुछ सवाल है या आप इससे जुड़े कुछ सवालों का जवाब चाहतें है तो सरकार ने कुछ टोल-फ्री नंबर भी उपलब्ध कराएं है.ये नंबर इस प्रकार है :

एनएचबी : 1800-11-3377

          1800-11-3388

एचयूडीसीओ : 1800-11-6163

Updates 

28/04/2018

m आवास योजना app के जरिये अब आप अपना स्टेटस चेक कर सकते है।

16/6/2018

प्रधान मंत्री आवास योजना के  अंतर्गत सर्वप्रथम एमआईजी-I के लिए कारपेट एरिया का साइज़ 120 स्क्वायर मीटर से से बढ़ाकर 160 स्क्वायर मीटर कर दिया गया है वहीं एमआईजी-II के लिए कारपेट एरिया का साइज़ 150 स्क्वायर मीटर से बढाकर 200 स्क्वायर मीटर कर दिया गया है. इसके आलावा मध्यम आय वर्ग के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी लोन की लिमिट बढ़ा दी है. अब 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरोँ में लोग 35 लाख तक का होम लोन प्राप्त कर पाएंगे, और वहीं 10 लाख से कम आबादी वाले क्षेत्रोँ में लोग 25 लाख तक का लोन ले सकेंगे.

अन्य पढ़े :

Karnika

Karnika

कर्णिका दीपावली की एडिटर हैं इनकी रूचि हिंदी भाषा में हैं| यह दीपावली के लिए बहुत से विषयों पर लिखती हैं |यह दीपावली की SEO एक्सपर्ट हैं,इनके प्रयासों के कारण दीपावली एक सफल हिंदी वेबसाइट बनी हैं
Karnika

70 comments

  1. पिछले 15 सालो से इंतजार कर रहे है, कि आवास मिलेगा + आवास मिलेगा ,मगर आज तक आवास मिला नहीं । हमारा जिला औरैया ब्लाक सहार में ग्राम पंचायत किचिया गोपालपुर पड़ता है ।हमारे ग्राम पंचायत में हमारा ही मकान कच्चा है ।आवास हमारा आता है ये आश्वासन दिया जाता है सबके आवास आ जाते है ,मगर हमारा नहीं ,हमारा अगली लिस्ट में आएगा ऐसा बताते है । हर 5 साल में अधिकारी हमारे घर को चैक करते है लिस्ट में नाम लिख लेते है । प्रधानमंत्री आवास योजना मुझे कब मिलेगा कोई बताएगा सर। ( Please help me. )

  2. Sir ji mera home loan 20lakh ka DEC 2013 se indiabulls m rha maine koi bhi PMAY subsidy ka labh nhi liya.jisko maine Oct 2015 se sbi bank m transfer kra liya h.meri mother ki pansion approx 250000 RS yearly h.ye loan maine apni selry approx 6 lakh per annum h.or meri mother ki pansion p mila tha.is mkaan k alwa hmare pass koi bhi pkka mkaan nhi h.m merried hu..kya mujhe PMAY SUBSIDY milege..or kaise

  3. sir me MAHARASHTRA ke dist PARBHANI se hu hmare taluke me online form ki fees 500 rupye lere koi sulution plz 500 lene wala koi aam aadmi nhi taluke ka nagar adhayakh hai

  4. Maine varansi nagar nigam me apna from bhara tha koi number hai jisep baat ho sake or mai apne ka statusjan saku

  5. Hi, sir muje home loan lena hai .but bank vale bol rahe hai ki pm aawash yojana ka labh lena ho to 20 years ka hi tenure rakhna hoga. Usse jyada ya kam nahi rakh sakte.or 20 year’s take regular emi bhrna hoga. Bich me pripement nahi kar sakte varna pm aawash yojna ka labh nahi milega. Kya ye bat sahi hair ya nahi. Plz answer me sir

  6. SIR mme eak Plot le rakha hai uspar me makan Banana chahta hu Lekin Plot ki registry mere naam par hai kya mughe is yojna ka labh mil sakta hai Ragistry mahila ke naam par hona jaruri hai kya

  7. Muje nhi lagta ki ye yojna 2022 tak sbiko milegi aj karnataka me tk hai bt maharashtra me kon dekh rha hai kisko ghar hai ya nhi ajtk osmanabad dist me ye yojna kisiko nhi mili hai….
    Plz muje contact no chahiye kisika inq ke liye .
    Ye mera no hai – 8087863199

  8. Main bahut Kareeb Hoon Aur meri sister hai Shadi Ke Liye Main Ghar Banwari Nahi Sakta Modi se request hai ki mein meri Garibi ka kuch Samjha aur uska Samadhan kare Modi ji ke Makan Kiraye Ka Makan mein rehta hoon jaldi jawab De
    I am Deepak Mahor
    Mobile no 9713700095

  9. Sir…main dehli m apna Ghar chahti hu lekin mere pass paise nhi h Ghar k liye mujhe kitna loa. Mil sakta h please jarur bataye ye Mera no. H 704201393

  10. Sir ye scheme bhout hi achi h is scheme ke jariye hum jaise garib logo ko apna ghr mil pyga …
    Jaha issan shaam ko thakka haara aaye toh chain ki sans le sake or apne family ko sari khuiysaa de sakee …
    Thanks …..

  11. Kundan Chaudhary

    Sir, mai pradhan mantri awash yojana ke liye apply karna chahta hu,abhi hum rent pe rhte hai,please give me guidelines for apply this scheme…

  12. Sir
    Mai ek ghar Lena chata is suwida ka fayda kaise mil sakta hai hme pahle kitna pay krna padega kya krna hoga

  13. Hi,

    yeh bahut achi scheme hai sabke liye, main b ek ghar chahti hu, main bahut time se try kar rhi hu but kuch ban hi nahi pata because property ke rate hi bahut jyada hai , is scheme ke under shayad hamein b ek acha ghar mil jaye please aware me when this scheme is start. Thanks

  14. PARMESHWAR JANRAO ( KOLHAPUR , MAHARASHTRA )

    Dear sir ,

    ye yojana bahut achi hai hamare jaise logokeliye bahut phaydemand hai . ye yojanake jariye city me apana khudka ghar leneka sapana sach yo jayega .

    ( ye yojana ke liye manpurvak dhanyavad . jaldi ye yojana shuru kijiye )

    Thanks
    aapka shubachintak
    parmeshwar
    kolhapur
    maharashtra

  15. Ganesh Chand kaushik

    pardhan mantri ji ko mera parnam: Ganesh Chand kaushik Delhi mai bhi ek ghar chata hu per meri halat bhaut kharab hai pardhan mantri ji ne awas yojna se ummed jagi hai per yha labh kase mil sakta hai kuch samaj me nahi aa raha hai mane 3 daughter ki marriage bahar se paisa laker ki hai me paisa nahi utar pa raha hu jab yojna suru ho to muje bata dena esme income kitne honi chaeyae me keraye per rahata hu pardhan mantri ji ne yah bhaut accha kia hai sabka ghar ho apna sach ho sapna

  16. Jayshree Gadhavi

    Sir,

    I live in Mumbai with my parents. By reading on fb, I am very much pleased that now I will also get one home to live. I am only the person who earns. I have a son. My husband is not there. He passed by in 2008. Son is still studying. When this scheme will start, pl make me aware with it.

    Awaiting for your reply.

    Regards.

  17. Pmay
    Ye ek bahut achi yojna he
    Main indore mp me rehta hoon aur main bhi mera ghar is yojna ke antrgat banana cahta hoon iske liye kya karna hogan

  18. Brajbhan Singh yadav

    Game to ghar kee ummed hi na this. Par kaushal vikash yojana she ummeed jaee .par kaise ye labh mle. Thankyou kaushal Ava’s yojana .

  19. Sir es yojna ka labh kese le

  20. ye yojana jab suru ho to esaki suchana jarur dena .

    thanks
    pm

  21. मै भी एक घर चाहता हेु उम्मीद नही थी पर पृघानमन्त्री आवास योजना से उम्मीद जगी पर कैसे मिले यह लब समझ मे नही आता

  22. is scheme ke liye kese apply kiya ja sakta please mujhe koi bata sakta hai aur ajmer me kaha par apply hoga

  23. dear sir,
    pm awas yojana to bahot acshi hai lekin ye kab chalu hoga or iski puri jankari kaha milegi ye yojan hamare liye ek naya ghar ka khwab pura karegi mai narendra modiji ka
    shukriyada karta hu.

  24. प्रधानमंत्री आवास योजना में कैसे होंगे शामिल ?

  25. mughe bhi umid hay ki is gojna ka labh hame bhi milega. “Thans.P.M.ji “

  26. Sir mujhe bhi apply karna hai Lakin kaise karu

  27. es PMAY ka labh kaise uthaye? es ke liye kya document chaiye? eski jankari jald se jald bataiyen…

  28. Sir mujhe ye schem bhut achhi lagi bat meri ek problam hai agr kisi ke pas gao me ghar bnane ke liye jameen hi na ho or khet me zmeen ho or usi me uska tuta futa makaan bna hua hai or usko bhi uske bejurg yani chacha ji tau ji hadapna chahte hai or jab qo vha jata hai to usko marne ki dhamki di jati hai or uska badi hi mushkil se pila ration card bna hua tha wo bhi kat diya gya to aise wo aadmi kaise is pradhan mantri awash yojana ka labh kaise uthayga or jab wo aadmi aapne gao ke sarpanch ke pass jata hai to wo bolta hai gao me jameen dikhao tab ja kar ke usko makan bnane ke liye paise milenge ab aap hi btao jab uske pas gao me jameen hi nhi wo kha se dikhaye gao me zmeen

  29. Sir aapki ye yojna bahut acchi he isse har garib ka sapna pura hoga or sab apna ghar chahte he jiska ghar nhi he uske bhi sapne pure hoge lekin is yojna ka laabh kese mil paega plz mujhe bhi bataye

  30. Namste sir…. PM sir ki ye yojna mere liye ek ummid ki kiran h…. aor is yojna ka mai bhi laabh uthana chahata hu… kyuki mere pass mera khud ka ghar nhi h.. mai chahata hu ki is yojna ki jald se jald suruat ki jaye…. aor mujhe ye bataya jaye ki is yojna ka labh kab aor kaise mil sakta h…. plzzz sir…. jay hind

  31. shrikrishna salpe

    sir
    akasar yeh hota hai ki aadhi yojana varista adhikari kha jate hai
    aap ne is bareme kya socha?
    aur bade paise vale log bank ka paisa dubate to unko kucha nahi hota par vahi garib log
    bank ka paise dubate to unko vapas se lone nahi milta
    aap ne is par kya socha ?
    aabhi aap bataye mai 100000 rupe ka karj nahi chuka paya to mera name sibel me daal diya aap garibo ki chinta kar rahe ho par hamare jaiso ka kya>
    ki puri umar kiraye ke ghar me hi nikal de
    sir is ke baare bhi aap sochi ye
    mai mera mobail number aage likha raha hu 8408911766
    aap se vinanti hai ki aap hare jaiso ka bhi vichar kare
    aap ka pratinidhi
    krishna

  32. Sir

    Pardhan mantri aawas yojna ke liye apply karna hai kon se bank se kar sakte hai

  33. Mai apna gav chod kar shahar aaya hu.mayre document gav kay hai to kay may shahar may is yojna ka labh utha sakta hu

  34. sir, mujhe pradhan mantri awas yojna ke liye apply karna hai kaise karu aap bataiye

  35. dhananjay karale

    Sabaka sath sabaka vikas sabaka ghar sabhi hindustani .modiji se nivedan hai ki aap maharastra vidarbha me kisano k liye kuch jabardast solution nikale kisano ko fand mat do aap sirf bijali pani sirf do chij de do free me koi soside nhi karega i req u

  36. pradhan mantri awas yojna bohot achchhi hai…isse garibo ko pakka ghar milega…but hamkoto koi laabh nhi mila….na mil rha…maito Nagpur me rahta , or Nagpur me yeh yojna chalu hai…PR hamko nhi laabh huaa….hamara income to 1 lakh rs se kam hai…..plz pm sir harame tarf bhi dhyan do……

  37. Deepak Late Shri Lahanuji Koche

    मैं भी एक घर चाहता हूँ उम्मीद तो नही थी पर प्रधानमन्त्री आवास योजना से उम्मीद जगी पर कैसे मिले यह लाभ कुछ समझ में नही आता।

  38. Aarti sHrivastav

    Sir
    me bhi apna Ghar chahti hu please mughe btaye ki uske liye monthli inCome honi chahiye id me kya chahiye
    Allahabad (u p)1

  39. Respected sir…

    I am from pune, maharashtra…
    Aapki yeh yojna bohot hi faydemand hai…
    Jinke khudake ghar nahi hai un sabke liye bhagwan se milne wale wardaan ki tarah hai..
    Sir mai aapko batana chahta hu ke mujhe bhi bohot khushi hogi agar mai iss yojna ka hissa ban sakunga or iss yojna ka labh utha saku toh..
    Meri maa ek single mother hai or woh handicap bhi hai fir bhi woh mujhe padha rahi hai lekin mai unke liye kuch karna chahta hu..
    Or iss yojna ke madhyam se mai unko khudka ghar de sakta hu…
    So its my kindly Request suggest to join in this scheme when it will start in pune…

    Thank & best regards
    Soheb shaikh

  40. Respected sir…

    I am from pune, maharashtra…
    Aapki yeh yojna bohot hi faydemand hai…
    Jinke khudake ghar nahi hai un sabke liye bhagwan se milne wale wardaan ki tarah hai..
    Sir mai aapko batana chahta hu ke mujje bhi bohot kjus

  41. मैं भी एक घर चाहता हूँ उम्मीद तो नही थी पर प्रधानमन्त्री आवास योजना से उम्मीद जगी पर कैसे मिले यह लाभ कुछ समझ में नही आता।वैसे यह योजना पंजाब (लुधिअना ) में कब सुरु होगी मेरी उम्र ४० साल है अभी कराए के एक मकान में रहता हु .मुझेऔर मेरी फैमिली को हर ११ महीने बाद नया घर देख्ना परता है.कई बार तो मै हार मान लेता हु .पर बच्चो की खातिर ऐसा करना परता है . पर घर के मालिक तरस नहीं खाते. इस टाइम मेरी इनकम 7 या 8 हज़ार है .एंड मकान का कराए ३००० है .मेरे लिए यह योजना एक उम्मीद की किरण है . मेरे और मेरी फैमिली के पास के घर होगा .पर कब ???????

  42. Such me ab Achhe din aayenge .

  43. hum 35 years se kiraye se rah rahe hai aaj tak hum ghar le nahi paye
    kya hume ghar mil sakta hai pradhan mantriji.

  44. megha pradip mane

    main house wife hoon kaise eligible hogi

  45. Shreepad Laxmanrao Kulkarni

    Iam from Pune, Maharashtra. Suggest to join in this scheme when it will start in Pune.
    Please Sir Guide me i am 40 yrs tenement in Chawl this scheme for chawl tetent

  46. Muje jarur batae is yojna ke. Bare me

  47. Sir mera name ram prasad hai mein vill bijouri teh bisouli.distt.budaun (u.p) ka rahne wala hoon sir mujhe ghaziabad mein kiray par rahte hue 5 sal ho gayi hai sir please ek awas mujhe bhi dila de bahut hi pareshani uthani padati thanks mob.8447156969

  48. Ravindra bansode

    सरजी मुझे प्रधान मंत्री आवास योजनाकी जानकारी मिली लेकीन मैने आभी घर के लिये लोन लिया है लेकीन उनका ब्याज दर जादा है क्या आपकी योजनासे लोन टेकओवर हो सकता हे क्या? Please इसकी जानकारी दिजीए

  49. फिरोज

    इस योजन की जानकरी दो अभी तक नहीं मिली जो घर की योजन है

  50. Really its fantastic scheme.I like it . where to get application farm.

  51. Sir
    Sir me azamgath ka rahne wala hu.
    mere gaw me bhi bahut log garib or vibhaw he lekin aabi tak kisi ko koi suvibha nahi mili he me chahta hu ki mere gaw le logo ko bhi yah suvibha mile .Sir mujhe bataye ki me in logo ki madat kese kar sakta hu

  52. Sir please tell me Pm Awaas yojna k niyam anusar minimum kitni income honi chahiye Apply karne k liye

    • sunil kumar bishnoi

      प्रधान मंत्री आवास योजना एक अच्छी योजना हे में Au housing finance ltd. से उन लोगो को लोन देता हु जिसका मकान या फ्लेट प्रधान मंत्री आवास योजना में खुला हुआ हे
      में जोधपुर राजस्थान में जिन जिन लोगो का निवास हे उन लोगो से संपर्क में रहता हु

  53. मैं भी एक घर चाहता हूँ उम्मीद तो नही थी पर प्रधानमन्त्री आवास योजना से उम्मीद जगी पर कैसे मिले यह लाभ कुछ समझ में नही आता।

  54. Pradhan mantri awas yojna yah scheme
    Kisi bhi bank main ya eska pata he nahi to aap agar jevan dima ya jan dhan yojna ki tarah esko sabhi village main karenge to achha hoga……..

  55. Dear Sir,

    Wise to sabhi yojnaye bahut achchhi hai lekin pm awash yojana bahut hi achchhi hai isse garibo k apne ghar ke sapne poore honge is yojna k liye hamari subhkamnaye MODI JI k sath hai.

    Mai bhi is yojana ka laabh uthana chahti hu Hum Dono Handicap Hai Sc cast mai aate hai par is yogna ke bare me pata nahi mujhe karna kya hoga ? jaise hi ye yojna ki shuruat ho kripa iske bare mai bataye .
    ye sabhi jarurat mando ke liye ek asha ki kiran jaisie hai jinke pass ghar nahi hai unka sapna pura ho skta hai ummeed karti hu jald hi ye scheme chalu ho tak hum bhi issha puri ho sake.

    Thanking you,
    Shilpa

  56. mai bhi is yojana ka laabh uthana chahta ohu magar kaise mujhe pata nahi mujhe karna kya hoga

  57. शिवपूजन शर्मा

    Pradhan mantri ki yah yojna bharat ko ak nai disha degi

  58. hari chand babbu

    this yojna is very useful to poor person. I m interested in this scheme and want to join this scheme. I m thankful to Karnika for this article.

  59. bapusaheb s.yadav

    Im from mumbai. Maharashtra. Suggest to join in this scheme when it will start in mumbai.

  60. jaise hi ye yojna ki shuruat ho kripa iske bare mai bataye taki hum bhi iska fayda utha sake .ummeed karta hu jald hi ye scheme chalu ho .ye sabhi jarurat mando ke ke liye ek asha ki kiran jaisie hai jinke pass khudh ka ghar nahi hai

  61. Im from Pune, Maharashtra. Suggest to join in this scheme when it will start in Pune.

  62. jaise hi ye yojna ki shuruat ho kripa iske bare mai bataye . ye sabhi jarurat mando ke ke liye ek asha ki kiran jaisie hai jinke pass khudh ka ghar nahi hai .ummeed karta hu jald hi ye scheme chalu ho . taki hum bhi iska fayda utha sake

  63. Amratlal dayabhai hadiya

    I love u PM sir,Garibo ka hak hai Garibo ko hi mile vahi soch ke sath. Maru Gati shil Gujarat ….jay ma Bharti

  64. vivekanand diwedi

    Wise to sabhi yojnaye bahut achchhi hai lekin pm awash yojana bahut hi achchhi hai isse garibo k apne ghar ke sapne poore honge is yojna k liye hamari subhkamnaye MODI JI k sath hai lekin isme pardarsita honi chahiye jisse garibo ko labh prapt ho sake.isme kya rool hai aur kab kaise apply kare hume jaroor bataye.
    Dhanybad.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *