Home घरेलु नुस्खे सर्दी जुखाम गले में खराश के लिए घरेलु उपचार | Cold and...

सर्दी जुखाम गले में खराश के लिए घरेलु उपचार | Cold and Cough home remedies In Hindi

0

सर्दी जुखाम तथा गले में खराश के लिए घरेलु उपचार, दवा, टेबलेट, एंटीबायोटिक, आयुर्वेदिक, पतंजलि, (Sardi Jukam or Cold and Cough home remedies in hindi) (Medicine, Antibiotic, Ayurvedic, Patanjali)

सर्दी एक बहुत आम बीमारी है, जो जरा से बदलते मौसम के साथ मनुष्य के शरीर में धरना दे देती है. सर्दी जुखाम से आपकी नाक बंद हो जाती है, साँस लेने में तकलीफ होती है. गले में खराश व् ब्लोकेज हो जाता है. मौसम के बदलाव के साथ ही स्वास्थ्य में भी कुछ बदलाव देखे जा सकते हैं, जिनमे से सर्दी जुखाम का होना आम बात हैं. बदलते मौसम का शरीर पर भी प्रभाव पड़ता हैं, ऐसे में घरेलु उपचार स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं और इनके कोई दुसरे गलत परिणाम भी नहीं होते, साथ ही इन्हें आसानी से किया जा सकता हैं.

सर्दी जुखाम गले में खराश के लिए घरेलु उपचार

यदि आप सर्दी जुखाम गले में खराश के लिए घरेलू उपचार के बारे में जानना चाहते हैं तो इससे पहले आप इसके कारण के बारे में जानिए कि आखिर क्यों होता है ऐसा.

सर्दी जुखाम के कारण (Sardi jukam Karan) –

1वायरल इन्फेक्शन
2सामान्य जुखाम
3फ्लू
4अधिक सिगरेट पिने से
5कुछ और शारीरिक परेशानी की वजह से भी सर्दी हो जाती है.

सर्दी जुखाम तथा खराश के लिए घरेलु उपचार

बाजार में सर्दी, जुखाम के लिए बहुत सी दवाई, सिरप मिलते है, लेकिन इसके दुष्परिणाम भी हो सकते है, इससे सुखी खासी जैसी परेशानी हो सकती है. मैं आज आपको इससे निपटने के लिए घरेलु नुस्खे बताती हु, जो प्राकतिक होने की वजह से कोई नुकसान नहीं पहुंचाते है.

हल्दी –

हल्दी बहुत अच्छी प्राकतिक औषधि है, गर्म प्रवत्ति के होने की वजह से ये सर्दी जुखाम में बहुत जल्दी असर दिखाती है. हल्दी के गुण व फायदे जानने के लिए पढ़े.

  • रात को सोने से पहले हल्दी का दूध सर्दी- जुखाम में फायदेमंद होता हैं. इसके लिए दूध में हल्दी डालकर उबालते हैं और उसे गरम – गरम पीने से गले के दर्द में राहत मिलती हैं पर इसे लेने के बाद ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए.
  • हल्दी को नमक के साथ गरम करके उसे गरम पानी अथवा दूध के साथ लेने से भी गले के दर्द, खराश में राहत मिलती हैं.
  • हल्दी के चूर्ण को पानी व् शहद के साथ मिलाकर दिन में 2 बार खाएं.

अदरक –

सर्दी की दवाई के रूप में अदरक बहुत पोपुलर दवा है. ये बहुत जल्दी अपना असर दिखाता है.

  • अदरक को छोटे छोटे टुकड़ों में काट ले, अब 1 कप पानी में डाल कर इसे उबालें. अब इसे दिन में 3-4 बार पियें, इसे कुछ दिनों तक करें जब तक आपको आराम नहीं मिल जाता. आप चाहें तो इसमें नीम्बू व् शहद भी मिला सकते है.
  • इसके अलावा आप अदरक के कुछ टुकड़े दिन में कभी भी चबाएं. गले में खराश इससे दूर होगी.
  • रात को सोने से पहले अदरक के रस को शहद के साथ लेने से गले के दर्द तथा खराश में राहत मिलती हैं . इसे लेने के बाद पानी न पीये.

नीम्बू –

नीम्बू को सर्दी दूर करने के लिए कई तरह से उपयोग किया जाता है. नीम्बू में ये प्रॉपर्टीज होती है कि ये सर्दी के समय उसमें होने वाली बैचैनी को दूर करता है. नीम्बू खाने से विटामिन c मिलता है, जिससे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

  • घर में प्राकतिक रूप से सिरप बनायें. इसके लिए 2 tbsp नीम्बू के रस में 1 tbsp शहद मिलाएं व् इसे दिन में कई बार पियें.
  • इसके अलावा नीम्बू के रस में ससद व् कलि मिर्च मिलाकर भी पिया जा सकता है.

लहसुन –

सर्दी में लहसुन खाना भी बहुत फायदेमंद होता है. लहसुन के फायदे  जानने के लिए पढ़े.

  • एक कप पानी में लहसुन की कालियां डालकर उबालें, फिर इसमें 1 tsp ओरीगेनो डाल कर उबालकर, थोडा ठंडा होने दें. अब इसमें शहद डालकर पी लें.
  • लहसुन को क्रश कर ले, अब इसमें कुछ बूंदे लोंग के तेल व् शहद मिलाकर पियें. लहसुन को अपने खाने में भी शामिल करें.
cold and cough home treatment in hindi

गर्म दूध –

रात को सोने से पहले गर्म दूध में शहद डाल कर पियें, आप इसमें कलि मिर्च भी डाल सकते है. रात को अच्छी नींद आएगी व् सर्दी में भी आराम मिलेगा.

प्याज –

सर्दी में सबसे आसान है प्याज को कट करके उसे सूंघना. इसे सूघने से बंद नाक खुल जाती है. आधी चम्मच प्याज के रस को 1 चम्मच शहद के साथ मिलाकर खाएं. दिन में 2 बार इसे खाने से सर्दी जल्दी ही ठीक हो जाएगी.

कुनकुने पानी से कुल्ला करना

गले की खराश को कम करने अथवा राहत पाने के लिए कुनकुने पानी में नमक डालकर कुल्ला करना फायदेमंद होता हैं . कुनकुने पानी के साथ नमक जब गले से होकर जाता हैं तो सुजन कम होती हैं जिससे गले में दर्द तथा खराश में राहत मिलती हैं .

हर्बल चाय

सर्दी जुखाम के समय हर्बल चाय बहुत फायदेमंद होती हैं . इस चाय में अदरक, तुलसी के पांच से छ: पत्ते, इलायची, लोंग तथा काली मिर्च के पावडर को पानी में चायपत्ती के साथ डालकर उबालते हैं फिर उसमे मिल्क डालकर उसे कुछ देर उबालकर चाय बनाते हैं जिसे गरम- गरम पीने से गले में खराश तथा सुजन से राहत मिलती हैं.

गर्म पानी

दिन भर कुनकुना पानी लेने से भी सर्दी जुखाम में राहत मिलती हैं.

भाप लेना

अगर नाक बंद हैं, या बहुत अधिक बलगम आपको तकलीफ दे रहा हैं, तो उबलते पानी को बाल्टी अथवा किसी बड़े बर्तन में डालकर उसकी भाप लेने से तुरंत राहत मिलती हैं . इस पानी में आप नीलगिरी तेल भी मिला सकते है, इससे बहुत जल्दी आराम मिलेगा.

बादाम – 

बादाम में बहुत से पोषक तत्व होते है, जो सर्दी की बीमारी को भी ठीक कर सकते है. बादाम के फायदे  जानने के लिए पढ़े.

  • 5-6 बादाम को रत भर पानी में भिगोयें, अब इसका पेस्ट बनायें.
  • पेस्ट में 1 tsp बटर मिलाएं. अब इसे दिन में 3-4 बार खाएं, इसे तब तक लें जब तक आपको सर्दी से आराम न मिले.

गाजर का जूस –

गाजर में बहुत से विटामिन व् मिनिरल्स होते है, जो सर्दी जुखाम में आराम देते है.

  • 4-5 गाजर का जूस बनाये, इसमें कुछ मात्रा पानी की भी मिलाएं.
  • अब इसमें 1 tsp शहद मिलाएं. दिन में इसे 3-4 बार पियें.

तेल की मालिश –

सीत की वजह से भी कई बार सर्दी जुखाम हो जाता है. इससे बचने के लिए जरुरी है कि आप शरीर में गर्माहट रखें. इसके लिए आप सरसों के तेल में लहसुन की कलियाँ डाल कर उबालें, अब इसे गुनगुना करके सोने से पहले तलवों व् सीने में लगायें.

तुलसी के सेवन से जुकाम खत्म

जुकाम में तुलसी सबसे अच्छी होती है। अगर आपको खांसी और जुकाम है तो आप 5-7 पत्तियां पीसकर इसे पानी में डालकर उबाले और इसका काढ़ा बनाकर पिएं इससे आपका खांसी जुकाम ठीक हो जाएगा। नाक बंद होने पर तुलसी की मंजरियों को रुमाल में रखकर सूंघे इससे नाक खुल जाएगी और आपको आराम मिलेगा। अगर आपके घर में छोटे बच्चों को जुकाम है तो आप उन्हें  6-7 बूंद अदरक एवं तुलसी का रस पिला सकते हैं इससे उनकी बंद नाक खुल जाएगी और बहती हुई नाक भी बहना बंद हो जाएगी। इसका असर भी काफी तेजी से आपको उनके अंदर देखने को मिलेगा।

मेथी और अलसी

जुकाम को सही करने का एक और घरेलू उपाय है आप मेथी और अलसी को 3-4 ग्राम गरम पानी में उबाले, और तबतक उबाले जबतक वो अच्छी तरह उबल ना जाए उसके बाद उसकी कुछ बूंदे अपनी नाक में डाले इससे आपकी बंद नाक खुल जाएगी और आपको जुकाम से आसानी से आराम मिल जाएगा।

काली मिर्च –

जुकाम में आप चाहे तो पिसी हुई काली मिर्च को शहद में मिलाकर उसका सेवन कर सकते हैं इससे आपकी नाक बहना बंद हो जाएगी। साथ ही आपको समय रहते काफी आराम भी मिलेगा इसे कई लोग रोजाना में भी सेवन करते हैं लेकिन रोजाना की बजाए आप इसे एक दिन छोड़कर सेवन करें आपको काफी आराम मिलेगा।

सर्दी ज़ुकाम खांसी की दवा (टेबलेट)(एंटीबायोटिक, एलोपेथिक, आयुर्वेदिक, पतंजलि)

सर्दी जुकाम खांसी के लिए एंटीबायोटिक, एलोपैथिक, आयुर्वेदिक एवं पतंजलि सभी प्रकार की दवा बाजार में उपलब्ध होती है. किन्तु कौन सी दवा कारीगर हैं ये आपके डॉक्टर ही बता सकते हैं. इसलिए सर्दी खांसी एवं जुकाम की कोई भी दवा लेने से पहले आप अपने डॉक्टर या फिर मेडिकल शॉप में जाकर संपर्क कर सकते हैं.

ऊपर लिखे सभी उपचार घरेलु हैं, जो बहुत आसानी से किये जा सकते हैं, साथ ही इनके कोई अन्य नुकसान नहीं हैं.

FAQ

Q : एंटीबायोटिक, एलोपेथिक, आयुर्वेदिक. पतंजलि कौन सी दवा है खांसी जुकाम के लिए बेहतर ?

Ans : खांसी जुकाम ठीक करना है तो इनमें से कुछ भी ना लेकर आप घरेलू नुस्खें अपानएं।

Q : खांसी-जुकाम का इलाज क्या है ?

Ans : खांसी-जुकाम का एक ही इलाज काफी अच्छा है वो है घर में रखी चीजें।

Q : सर्दी जुकाम के लक्षण क्या हैं ?

Ans : नाक से पानी बहना, नाक में खुजली होना, गले में खराश, नाक बंद होना।

Q : सर्दी जुकाम में कौन से फल खाने चाहिए ?

Ans : संतरा, अमरूद, अनार, आंवला, सेब, नींबू, नाशपाती, कीवी, केला।

Q : क्या खांसी में दूध पीना चाहिए ?

Ans : खांसी-जुकाम में आप हल्दी वाले दूध का सेवन कर सकते हैं।

अन्य पढ़े:

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here