ताज़ा खबर

शक्ति कपूर का जीवन परिचय | Shakti Kapoor biography in hindi

Shakti Kapoor biography in hindi शक्ति कपूर बॉलीवुड फिल्मों के अभिनेता है, उन्होने कई फिल्मों में हास्य और खलनायक की भूमिका को निभाया है. वे अपने करियर में अब तक 700 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके है. फिल्मों के अलावा वह भारतीय टेलीविजन के कलर्स चैनल पर आने वाले शो बिग बॉस के सीजन 5 में भी एक प्रतियोगी के रूप में दिख चुके है, जोकि 2011 में प्रसारित हुआ था. बिग बॉस के सभी सीजन के विजेता के बारे में यहाँ पढ़ें.

शक्ति कपूर का जीवन परिचय (Shakti Kapoor biography in hindi)

शक्ति कपूर का जन्म दिल्ली के एक पंजाबी परिवार में 3 सितम्बर 1958 को हुआ था. इनका असली नाम सुनील सिकंदरलाल कपूर है, लेकिन फिल्मों में आने के बाद इनका नाम एक खलनायक के रूप में शक्ति कपूर पड़ गया. उनका शुरूआती जीवन बहुत संघर्ष में व्यतीत हुआ था, उनके पिता की नई दिल्ली के कनौट प्लेस में एक दुकान थी, जिसमे वो कपडे की सिलाई का काम करते थे. जब अभिनेता सुनील दत्त अपने बेटे संजय दत्त को लाँच करने के लिए फ़िल्म रॉकी बना रहे थे, तब उन्होंने शक्ति कपूर को देख कर उन्हें खलनायक के लिए चुना था.

शक्ति कपूर का पारिवारिक जीवन (Shakti Kapoor family)

शक्ति कपूर के परिवार में उनके माता पिता के अलावा उनकी पत्नी और दो बच्चे है. उनके पिता का नाम सिकंदर लाल कपूर था, और माता का नाम सुशीला कपूर था. वो एक गृहिणी थी शक्ति कपूर के दो भाई भी है, जिनका नाम परवीन और रुम्मी कपूर है. उनकी एक बहन भी है जिसका नाम रेनू कपूर है. शक्ति कपूर की पत्नी का नाम शिवांगी कपूर है, वो अभिनेत्री पध्मिनी कोलाह्पुरी की बहन है, जिनसे उन्होंने 1982 में शादी की. इस दम्पति को एक लड़का जिसका नाम सिद्धान्त कपूर है और एक लड़की जिसका नाम श्रद्धा कपूर है, जोकि बॉलीवुड में फिल्म अभिनेत्री भी है. श्रद्धा कपूर का जीवन परिचय जानने के लिए पढ़े.

शक्ति कपूर की शिक्षा (Shakti Kapoor education)

उनकी शिक्षा दीक्षा दिल्ली के होली चाइल्ड स्कूल में हुई, फिर उनका नामंकन दिल्ली के फ्रैंक अन्थोनी पब्लिक स्कूल में हुआ. उनके ख़राब आचरण की वजह से स्कूल से निकाले जाने के कारण उन्हें ये दोनों स्कूल बदलने पड़े थे. उसके बाद उन्होंने दिल्ली के ही सलवान पब्लिक स्कूल में भी पढाई की. उन्होंने न्यू दिल्ली के किरोड़ीमल कॉलेज से कॉमर्स में स्नातक की डिग्री को प्राप्त किया. कॉलेज में उन्हें नामंकन खेल कोटा के माध्यम से मिला था. बाद में उन्होंने पुणे फ़िल्म्स एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया से अभिनय की शिक्षा को प्राप्त किया.

शक्ति कपूर का करियर (Shakti Kapoor career)

शक्ति कपूर ने बॉलीवुड में अपने करियर की शुरुआत 1980 से 81 में फ़िल्म ‘रॉकी’ और कुर्बानी में अभिनय करके किया. उसके बाद उनकी फिल्म आई ‘हिम्मतवाला’, और सुभाष घई के निर्देशन में बनी फ़िल्म ‘हीरो’ इन दोनों ही फिल्मों में शक्ति कपूर ने खलनायक की भूमिका को किया था. उसके बाद उन्होंने हास्य फिल्मों को करना शुरू किया सकारात्मक हास्य के रूप में उन्होंने कई फ़िल्में की, इनमे से सबसे ज्यादा चर्चित रही फ़िल्म ‘राजा बाबु’, जिसमें उनके द्वारा नंदू नाम का किरदार निभाया गया. यह फ़िल्म डेविड धवन ने बनाई थी, इस फिल्म के लिए शक्ति कपूर को पुरस्कार के लिए नामांकन भी प्राप्त हुआ था.

उनके द्वारा की गयी कुछ हास्य फिल्मों और उनके द्वारा बोले गये कुछ चर्चित संवाद है-

  • ‘तोहफ़ा’ फ़िल्म में उनका एक संवाद था ‘आऊ लोलिता’,
  • फ़िल्म ‘चालबाज’ में उनके द्वारा बोला गया डायलॉग ‘मै एक नन्हा सा छोटा सा बच्चा हूँ’,
  • फ़िल्म ‘राजा बाबु’ का संवाद ‘समझता नहीं है यार’ और ‘नंदू सबका बंधू’ ये सभी संवाद आज भी लोगों के जुबां पर है.

2000 के बाद कपूर ने प्रियदर्शन की अधिकांशतः फ़िल्मों में काम किया, जिनके नाम है हलचल, चुप चुप के, हंगामा, मालामाल विकली और भागम भाग. उन्होंने हिंदी फिल्मों के साथ ही बंगाली, उड़िया और असमिया की कुछ फिल्मों में भी काम किया है. वह एक म्यूजिकल कॉमेडी ‘आसमान से गिरा और खजूर पे अटका’ में पद्मिनी कोल्हापुरी के साथ काम कर चुके है. इसके साथ ही वह सेर्वोकोन के ब्रांड एम्बेसडर भी है. इसके अलावा उन्होंने कादर खान के साथ लगभग 100 फिल्मों में काम किया है. कादर खान का जीवन परिचय यहाँ पढ़ें.

शक्ति कपूर के अवार्ड और उपलब्धियां (Shakti Kapoor Award)

उन्हें 1995 में फ़िल्म ‘राजा बाबु’ के लिए सर्वश्रेष्ट हास्य कलाकार का फ़िल्म फेयर का अवार्ड प्राप्त हुआ था.

शक्ति कपूर विवादों में (Shakti Kapoor Controversy)

2005 में एक वीडियो इण्डिया टीवी के द्वारा जारी किया गया था, जिसमें शक्ति कपूर पर एक कलाकार को बॉलीवुड में काम दिलाने के बदले उससे अश्लील बात करने और यौन उत्पीडन का आरोप लगा था. यह वीडियो एक स्टिंग ऑपरेशन था. इण्डिया टीवी ने इस तरह का स्टिंग ऑपरेशन बॉलीवुड में फैली इस गंदगी का पर्दाफाश करने के लिए किया था. उसके बाद टेलीविजन प्रोडूसर्स गिल्ड ऑफ़ इण्डिया ने उन पर प्रतिबन्ध लगाया था, लेकिन चुकि आरोप साबित नहीं हो पाया तो बाद में प्रतिबन्ध हटा लिया गया.

2008 में वो अपने बेटे सिद्धान्त की वजह से विवादों में आये क्योकि उनके बेटे को पुलिस ने रवे पार्टी करते हुए पकड लिया था.

शक्ति कपूर का व्यक्तिगत जीवन (Shakti Kapoor profile)

व्यक्तिगत जीवन में शक्ति कपूर धूम्रपान और शराब का सेवन करते है. शक्ति कपूर अपने पिता के कारोबार में हाथ बटाते थे, लेकिन उनका मन उस व्यापार में नहीं लगता था, वो एक ट्रेवल एजेंसी बनाना चाहते थे. इनके बारे में कुछ और व्यक्तिगत जानकारी यहाँ दी गई है-

नाम सुनील सिकंदेरलाल कपूर
उपनाम शक्ति कपूर
व्यवसाय अभिनेता
ऊँचाई 6 फीट
शारीरिक बनावट सीना-40 इंच, कमर-32 इंच, बाइसेप्स 12 इंच
वजन 69 किलो ग्राम
आँखों का रंग ग्रे
बालों का रंग काला
नागरिकता भारतीय
राशी कन्या राशि
धर्म हिन्दू
पसंदीदा खाना बिरयानी
पसंदीदा अभिनेता अमिताभ बच्चन
व्यवाहिक स्थिति विवाहित
कुल कमाई 45 करोड़

शक्ति कपूर के चर्चित बोल (Shakti Kapoor Quotes)

  1. अपनी बेटी के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा था कि उनकी बेटी श्रद्धा एक बहुत ही अद्भुत लड़की है. वो अपने सभी फिल्मों को खुद सम्भालती है, उसके पांव के नीचे सारी दुनिया मुझे नजर आती है. उसकी और उसके माँ की बहुत ही अच्छी तरह से एक दुसरे से बनती है, वो दोनों मिलकर एक दुसरे की मदद से अपने काम को अच्छी तरह से संभाल रहे है.
  2. श्रध्दा कपूर के ऊपर कोई दबाव नहीं है और ना हीं वो कोई जोखिम लेने वाली है. श्रद्धा किसी भी काम को अच्छी तरह संभाल सकती है, आखिर उसके साथ मुझ जैसा अमीर पिता जो है. अमीर कैसे बना जाये यहाँ पढ़ें.
  3. श्रद्धा के पास तीन घर है जिसमे से एक उसने मुझे तोहफे में दे दिया है. श्रद्धा को उस पंछी की तरह देख सकते है जो रात होने पर अपने घर लौट जाते है. मुझे ये कभी याद ही नहीं है कि उसने कभी भी अपने घर को छोड़ कर कही और रात में सोई हो. भले ही देर रात या सुबह लेट हो जाये, वो घर आने पर ही सोती है वह किसी और के घर में सोने में सहज नहीं है.
  4. मेरी बेटी मुझसे अपनी हर छोटी बड़ी बातों को बताती है उसने मुझे कभी भी अपने और फरहान के रिश्तों के बारे में नहीं बताया, इसलिए मै इस तरह कि किसी भी खबर के बारे में नहीं सोचता हूँ ये मै जानता हूँ कि वह फरहान की बहुत कद्र करती है.

अन्य पढ़ें –

Ankita

Ankita

अंकिता दीपावली की डिजाईन, डेवलपमेंट और आर्टिकल के सर्च इंजन की विशेषग्य है| ये इस साईट की एडमिन है| इनको वेबसाइट ऑप्टिमाइज़ और कभी कभी आर्टिकल लिखना पसंद है|
Ankita

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *