Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

विद्या बालन का जीवन परिचय

विद्या बालन जीवन परिचय बायोग्राफी (Vidya Balan Biography in Hindi) [नयी फिल्म, अवार्ड]

कहते हैं सोने की चमक तब निखर कर आती है जब उस सोने को अच्छी तरह से तराशा जाता है। बॉलीवुड में कुछ ऐसे ही कलाकार हैं जिनकी चमक आज देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी कायम है सिर्फ उनकी कड़ी मेहनत की वजह से। जिनमें से एक नाम विद्या बालन का है जिन्होंने अपने जीवन के कड़े संघर्ष के बाद सफलता का वह चरण हासिल कर लिया है जिससे वे भारतीय महिलाओं के लिए  एक प्रेरणा पूर्ण जीवंत बन चुकी हैं। आज हम विद्या बालन के जीवन से जुड़े कई रहस्यों के बारे में या फिर कहीं कुछ ऐसे तथ्यों के बारे में बताने वाले है।

Vidya Balan Biography in Hindi

कौन है विद्या बालन ? (Who is Vidya Balan ?)

 विद्या बालन बॉलीवुड में विभिन्न किरदार निभाने वाली एक मशहूर कलाकार हैं। विद्या बालन एक ऐसी अभिनेत्री है जो बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर अपनी खूबसूरत अदाकारी और विभिन्न किरदारों को लेकर बखूबी जानी जाती हैं। बॉलीवुड में अभिनय का आरंभ करने से पहले  उन्होंने कई सारे एडवर्टाइजमेंट में भी छोटे-मोटे किरदार निभाए। वह कुछ म्यूजिक वीडियो में भी अपने बेहतरीन किरदार के लिए पहचानी गई।

विद्या बालन का जन्म एवं परिचय (Vidya Balan Birth and Introduction)

परिचय बिंदु (Introduction Points) परिचय (Introduction)
पूरा नाम (Full Name) विद्या बालन
अन्य नाम (Other Name) विधि
पेशा (Profession) बॉलीवुड अभिनेत्री
जन्म (Birth Date) 1 जनवरी, 1978
उम्र (Age) 41 साल
जन्म स्थान (Birth Place) पूथमकुरूसी, पुथुर, पलक्कड़, केरला, भारत 
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय
गृहनगर (Hometown) चेम्बूर, मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification) सोशियोलॉजी में मास्टर्स डिग्री
डेब्यू (Debut) बंगाली फिल्म – भालो थेको

बॉलीवुड फिल्म – परिणीता

टीवी शो – हम पांच

धर्म (Religion) हिन्दू
राशि (Zodiac Sign) मकर
पता (Address) अ सी फेसिंग फ्लैट इन जुहू तारा रोड, मुंबई
सैलरी (Salary) 10 करोड़ प्रति फिल्म
नेट वर्थ (Networth) 15 मिलियन डॉलर

 विद्या बालन की शिक्षा (Vidya Balan Education)

 अपने जीवन के आरंभिक दौर में उन्होंने अपनी आरंभिक शिक्षा के लिए सेंट एंथोनी गर्ल्स माध्यमिक विद्यालय जो मुंबई के चेंबूर में स्थापित है में दाखिला लिया। उन्होंने अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई मुंबई विश्वविद्यालय से ही की अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन उन्होंने समाजशास्त्र विषय में पूरी की। उन्हें आरंभ से ही अभिनय में दिलचस्पी थी इसलिए उन्होंने कॉलेज में भी कई सारे नाटकों में हिस्सा लिया। नृत्य में उनकी इतनी अधिक दिलचस्पी थी कि उन्होंने कर्नाटक नृत्य की पूरी शिक्षा दीक्षा ली।

विद्या बालन का आरंभिक करियर (Vidya Balan Early Life)

सबसे पहले उन्होंने अपनी अदाकारी का परचम एक प्रसिद्ध टीवी शो हम पांच में काम करके लहराया। इसके बाद बंगाली भाषा में उनकी पहली फिल्म भालो ठेको में उनके बेहतरीन और बेमिसाल अभिनय की वजह से साल 2003 में उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के तौर पर  आनंद लोक पुरस्कार से  कोलकाता के शहर में ही दिया गया। अब तक उन्हें बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर कोई ब्रेक नहीं मिला था। उनकी अदाकारी का अंदाजा बेहतरीन फनकारों को हम पांच सीरियल के 1 या 2 एपिसोड से ही हो गया था। अपने जीवन में बहुत सारे रिजेक्शन को झेलने के बाद उन्होंने आज इस मुकाम को हासिल किया है।

विद्या बालन का परिवार (Vidya Balan Family)

विद्या बालन के पिता बेहद मेहनती व्यक्ति थे जोकि एक एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट रह चुके हैं और उनका नाम पीआर बालन है। उनकी मां बेहद खूबसूरत और साथ एक सक्षम ग्रहणी हैं जिनका नाम सरस्वती बालन है। विद्या कॉलोनी एक ऐसी कलाकार हैं जो मात्र हिंदी भाषा के अलावा तमिल मलयालम और अंग्रेजी भाषा को भी बेहतर रूप से निभा सकती हैं। उनकी एक बहन भी है जिनका नाम प्रिया बालन है वे भी विद्या बालन की तरह ही खूबसूरत है। हिंदू मान्यताओं के अनुसार उन्होंने साल 2012 में सिद्धार्थ रॉय कपूर से शादी कर ली। सिद्धार्थ रॉय कपूर जो एनडीटीवी के सीईओ है उनके साथ विद्या बालन काफी लंबे समय तक रिलेशनशिप में रही। सिद्धार्थ रॉय कपूर जिनके दो भाई भी हैं जिन्हें आपने बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर अक्सर देखा होगा उनके दोनों देवर बॉलीवुड के गलियारों में बेहद मशहूर हैं। उनका नाम शायद आप जानते भी होंगे, उनके देवर का नाम आदित्य रॉय कपूर और दूसरा कुणाल रॉय कपूर है।

विद्या बालन का लुक (Vidya Balan Look)

कद (Height) 5 फूट 4 इंच
वजन (Weight) 70 किलोग्राम
बॉडी मेज़रमेंट (Body Measurements) 35-30-35
आँखों का रंग (Eye Color) डार्क ब्राउन
बालों का रंग (Hair Color) ब्लैक

 विद्या बालन की पसंद और नापसंद (Vidya Balan Like and Dislike)

पसंद (Hobies) पढ़ना
पसंदीदा फ़ूड (Favourite Food) थाई 
पसंदीदा अभिनेता (Favourite Actor) शाहरुख खान, अमिताभ बच्चन, मॉर्गन फ्रीमैन, ए1 पसीनो
पसंदीदा अभिनेत्री (Favourite Actress) शबाना आज़मी, माधुरी दीक्षित, केट विंसलेट, जूली डेल्फी, जूलिया रोबर्ट्स 
पसंदीदा फिल्म्स (Favourite Films) बॉलीवुड फिल्म –  गोलमाल

हॉलीवुड फिल्म – बिफोर सनराइज बिफोर सनसेट

पसंदीदा निर्देशक (Favourite Directors) गुलज़ार, हृषिकेश मुखर्जी
पसंदीदा संगीतकार (Favourite Musician) जाकिर हुसैन, मिचेअल जैक्सन, एनरिक इग्लेसिअस, इंडियन ओसियन, मिडिवल पंडित्ज़
पसंदीदा कलर (Favourite Color) लाल
पसंदीदा परफ्यूम (Favourite Perfume) Issey Miyake, Elizabeth Arden
पसंदीदा जगह (Favourite Destination) न्यूयॉर्क और न्यू जीलैंड

विद्या बालन का करियर (Vidya Balan Career)

भले ही अपने करियर की शुरुआत उन्होंने एक बंगाली फिल्म से की लेकिन उन्हें बड़े परदे पर पहचान बॉलीवुड में परिणीता फिल्म से मिली। फिल्म परिणीता में सफलता हासिल करने के बाद ये बॉलीवुड में एक नए चेहरे के रूप में उभरकर आई। परन्तु उनको समाज के साथ-साथ कुछ डायरेक्टर्स की भी कुछ आलोचनात्मक हरकतों का शिकार होना पड़ा। अपने जीवन से जुड़ा एक बुरा हादसा उन्होंने खुद ही एक इंटरव्यू में सबके सामने बताया कि काम के सिलसिले में जब वह एक बार चेन्नई एक डायरेक्टर से मिलने गयी तब उन्होंने उनका फायदा उठाने की कोशिश की। वे उस बुरे हादसे का शिकार होने से तो बच गई लेकिन उन्हें अपने करियर में 12 प्रोजेक्ट गवाने पड़े।

 उन्होंने अपने जीवन में कई सारी कड़ी बातें सुनने के बाद भी हार नही मानी और बहुत संघर्ष किया. अपने संघर्षों के चलते उन्होंने  एक मलयालम डायरेक्टर से अपशकुन होने का कलंक भी लगवाया लेकिन फिर भी उन्होंने इस बात को दिल पर ना लेते हुए अपने भविष्य पर गौर किया और आगे बढ़ती चली गई। भले ही बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर परिणीता फिल्म असफल रही लेकिन उन्होंने अपने कार्य में ना ही पीछे हटना सीखा और ना ही हार मानना।

विद्या बालन की फिल्में (Vidya Balan’s Films)

  • विद्या बालन का बड़े पर्दे पर सफर काफी लंबा रहा जिसका एक टर्निंग प्वाइंट साल 2006 में आया। जब उन्होंने संजय दत्त के साथ एक धमाकेदार फिल्म ‘लगे रहो मुन्ना भाई’ में जबर्दस्त अभिनय से खुद को साबित कर दिखाया। इस फिल्म ने विद्या बालन को बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर एक नई पहचान बनाने का मौका दिया। बॉलीवुड के गलियारों में इस फिल्म ने खूब सुर्खियाँ पकड़ी और इस फिल्म की सफलता आसमान को छूने लगी।
  • मणि रत्नम द्वारा निर्देशित फ़िल्म गुरु जो साल 2007 में रिलीज हुई उस फिल्म में उन्होंने एक अपाहिज की भूमिका निभाई जिसके लिए उन्हें बड़े पर्दे पर काफी सराहना प्राप्त हुई। इस फिल्म में भी विद्या बालन को बड़े पर्दे पर एक अलग मुकाम हासिल करने में सहायता दी साथ ही यह फिल्म बॉलीवुड के गलियारों में कई दिनों तक छाई रही और सफल भी रही।
  • साल 2007 में एक ही नहीं बल्कि उनकी एक और फिल्म रिलीज हुई जिसका नाम सलामे इश्क ए ट्रिब्यूट टू लव था। इस फिल्म में कई सारे स्टार थे इसलिए यह मल्टीस्टारर फिल्म थी. बड़े पर्दे पर इस फिल्म में उन्होंने कुछ ज्यादा कमाल दिखाकर दर्शकों को आकर्षित नहीं किया।
  • साल 2007 में दो फिल्मों में अपना कमाल दिखाने के बाद उन्होंने तीसरी फिल्म में कदम रखा जिसका नाम एकलव्य द रॉयल गार्डन था। बॉलीवुड के गलियारों में इस फ़िल्म ने भी ज्यादा सफलता प्राप्त नहीं की और ना ही यह लंबे समय तक बॉक्स ऑफिस पर चली।
  • साल 2007 अभी यहीं पर खत्म नहीं हुआ क्योंकि उनकी चौथी फिल्म जिसने बॉक्स ऑफिस पर बेहतरीन प्रदर्शन के साथ विद्या बालन का नाम रोशन कर दिया उसका नाम “है बेबी” था। इस फिल्म में वह बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार के साथ लीड रोल में दर्शकों को आकर्षित करती नजर आई। परंतु यह भी के मल्टीस्टारर फिल्म थी। इस फिल्म ने भी विद्या बालन के एक अलग और बेहतर अवतार को देखने का मौका प्रशंसकों को दिया।
  • साल 2007 की समाप्ति होनी अभी बाकी थी क्योंकि अभी उनके करियर ने नई छलांग लगानी शुरू ही की थी और 2007 का अंत उन्होंने एक बेहतर अभिनय के साथ फिल्म भूल भुलैया के रूप में किया। इस फिल्म में उन्होंने एक मल्टीपल कैरेक्टर वाला किरदार निभाया, उनका यह किरदार प्रशंसको को बेहद पसंद आया जिन्होंने उनको फिल्म फेयर अवार्ड का हकदार बना दिया।
  • धीरे-धीरे उनकी कामयाबी बढ़ती रही और साल 2009 में विद्या बालन ने अमिताभ बच्चन के मां का रोल निभाया जिस फिल्म का नाम पा था। जहां एक तरफ अभिषेक बच्चन उस फिल्म में एक अलग किरदार में नजर आए वहीं विद्या बालन एक जिम्मेदार मां का रोल निभाते हुए इस फिल्म में नजर आई।
  • साल 2010 में विद्या बालन ने अपनी एक अलग अंदाज के साथ फिल्म इश्किया से बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर धमाल मचाया, जिसमें उनके विपरीत नसरुद्दीन शाह और अरशद वारसी नजर आए। इस फिल्म ने बॉलीवुड गलियारों से लेकर विद्या बालन के प्रशंसकों के बीच में खलबली मचा दी थी।
  • 2010 में उनकी बोल्डनेस का इतना अधिक कमाल नजर आया कि साल 2011 में उन्होंने फिल्म डर्टी पिक्चर में इमरान हाशमी, तुषार कपूर और नसरुद्दीन शाह के साथ एक अपने बोल्ड अवतार से सबका मन मोह लिया। जिसके बाद वह भारत में नहीं बल्कि पूरी दुनिया में छा गई। इस फिल्म को विद्या बालन ने बेहद समर्पण के साथ किया और इस फिल्म में उनके बेहतरीन अभिनय की वजह से उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री श्रेणी के लिए अवार्ड मिला। साथ ही इस फिल्म को बेस्ट फिल्म जैसा अवार्ड भी प्राप्त हुआ।
  • धीरे-धीरे विद्या बालन की कामयाबी आसमान छूती नजर आ रही थी और उन्होंने कई सारी हिट फिल्में बॉलीवुड के बड़े पर्दे को दी। साल 2011 में नो वन किल्ड जेसिका फिल्म में समाज की कई सारी सकारात्मक चीजें बड़े पर्दे पर उतार कर रख दी। इस फिल्म में विद्या बालन ने एक पत्रकार की भूमिका निभाई जो समाज में न्याय लाने की प्रक्रिया में जुटी हुई है।
  • बड़े पर्दे पर शादी के टेढ़े मेढ़े और जटिल संबंधों को भी दिखाने की कोशिश की जिसे साल 2014 में शादी के साइड इफेक्ट्स के नाम से मशहूर हुई।
  • साउथ 2015 में उन्होंने एक सिंगल मदर के रूप में इस फिल्म में अपने खूबसूरत अभिनय से सबका दिल जीता इस फिल्म का नाम हमारी अधूरी कहानी था जिसमें विद्या बालन के साथ इमरान हाशमी राजकुमार राव और अनिल जॉर्ज भी थे।
  • अगले साल साल 2016 में कहानी-2 लेकर विद्या बालन ने बड़े पर्दे पर फिर से एंट्री की, जिसमें वे 1 रहस्यमई अतीत वाली महिला के रूप में नजर आई जिस पर अपहरण और हत्या के कई आरोप लगे हुए थे।
  • साल 2016 में उन्होंने फिर से एक फिल्म जिसका नाम Te3n था इस फिल्म में उन्होंने एक औरत का कड़ा संघर्ष दिखाते हुए किरदार निभाया, जिसमें उनका साथ अमिताभ बच्चन, नवाजुद्दीन सिद्दीकी और मुकेश छाबड़ा ने दिया।
  • अगला साल उनके लिए बहुत ही अजब-गजब रहा क्योंकि साल 2017 में तुम्हारी सुलू फिल्म के रूप में उन्होंने ऐसी महत्वाकांक्षी ग्रहणी को बड़े पर्दे पर लाकर दिखाया जो पति के प्यार के साथ साथ खुशहाल परिवार चाहती थी और अपने परिवार में थोड़ी बहुत चीजें बदलने के लिए नौकरी करना चाहती थी और अपने परिवार को अपने दम पर कुछ हद तक बदलने की इच्छा रखती थी।
  • साल 2018 में श्रीजीत मुखर्जी द्वारा निर्देशित फिल्म बेगम जान में भी उन्होंने एक महत्वपूर्ण किरदार निभाया जो हमारे समाज में सबसे निंदनीय किरदार माना जाता है। यह एक ऐसी फिल्म थी जिसमें 11 वेश्याओं की कहानी के बारे में बताया गया है जो भारत-पाकिस्तान के विभाजन के समय कि अपनी दुर्दशा व्यक्त करती है।
  • महिलाओं के जीवन से जुड़ी कई फिल्मों में उन्होंने अपने बेहतरीन अभिनय को दर्शाया जिनमें से एक निरकोंडा परवाई फिल्म जो साल 2019 में रिलीज हुई। इस फिल्म में एक रिटायर्ड वकील तीन महिलाओं के नाम को खत्म करने पर तुला हुआ है वह भी एक ऐसे अपराध के लिए जो उन्होंने कभी किया ही नहीं।
  • साल 2019 की सबसे अधिक चर्चित फिल्म मिशन मंगल में उन्होंने एक सबसे बेहतरीन किरदार को निभाकर खुद को एक अलग पहचान दी। यह फ़िल्म पूरी तरह से भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के प्रत्यक्ष लांच पर आधारित है। इस फिल्म में विद्या बालन के साथ कीर्ति कुल्हारी, तापसी पन्नू, सोनाक्षी सिन्हा, अक्षय कुमार, शर्मन जोशी और नित्या मेनन अहम किरदार में नजर आए। साल 2019 की सबसे मशहूर फिल्म की लिस्ट में नंबर एक पर इस फिल्म ने अपनी जगह बनाई।

इस तरफ बॉलीवुड के फिल्मी करियर में उन्होंने अब तक अपनी कुछ बेहतरीन फिल्मों से भारत देश में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व के कई देशों में अपनी एक अलग पहचान बनाई है।

 विद्या बालन के जीवन के विवाद (Vidya Balan Major Controversy) 

एक मशहूर कहावत के अनुसार खूबसूरत चांद पर भी कई दाग होते है। जब वह ही गंदे दागो से नहीं बच पाया तो एक मल्टीस्टारर अभिनेत्री विद्या बालन कैसे बच पाती? उनके जीवन पर भी कुछ ऐसे ही दाग लगे हुए जिनके बारे में हम आपको विस्तार से बता रहे हैं।

  • उनके जीवन में लगने वाला सबसे पहला दाग उस समय था जब वे साल 2008 में शाहिद कपूर के साथ फिल्म किस्मत कनेक्शन में अभिनय कर रही थी। ठीक उसी समय शाहिद कपूर जो करीना कपूर के साथ रिलेशनशिप में थे उनसे ब्रेकअप कर चुके थे उसके बाद वे कमजोर पड़ गए थे और उस समय उन्होंने विद्या को अपना सहारा समझ लिया और उनके साथ जुड़ गए। धीरे-धीरे वे करीब आ गए और उनके करीब आने की यह खबर बॉलीवुड के गलियारों में सुर्खियां बन गई।
  • उनके बॉलीवुड करियर में एक दाग यह भी लगा कि उन्होंने परिणीता फिल्म में बॉलीवुड अभिनेता सैफ अली खान के साथ भी रिश्ते बनाए। हालांकि उन दोनों के बीच के विवाद या रिश्तों के बारे में खुलासा अब तक कोई भी नहीं कर पाया है।
  • वह बॉलीवुड के गलियारों में द डर्टी पिक्चर को लेकर भी बेहद चर्चित रही जब उनके बोल्ड अवतार को लेकर दक्षिण भारत के कार्यकर्ताओं ने इस फिल्म के कुछ सीन पर आपत्ति जताई और उनकी इन पिक्चर्स को लेकर उन पर केस भी दर्ज करा दिया। इस फिल्म के कुछ सीन भारतीय संस्कृति के खिलाफ बताए गए जिसे लेकर फिल्म के निर्माताओं के खिलाफ लोगों ने आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में मामला दायर कर दिया था।
  • विद्या बालन की खूबसूरती और अदाकारी ने जितना अधिक सुर्खियां बटोरीं है उससे कहीं अधिक ज्यादा आलोचना उन्हें उनके वजन को लेकर मिलती है। इतने विवादों के बावजूद भी द डर्टी पिक्चर में अपनी विवादित भूमिका के साथ-साथ उन्होंने 12 किलो वजन गेन कर दर्शकों को चौका दिया और आलोचक के मुंह पर खुद के लिए प्रशंसक भरे शब्द लाने पर मज़बूर कर दिया।
  • शादी के इतने सालों के बाद भी वे अब तक मां नहीं बन पाई है परंतु जितनी बार भी वह किसी फिल्म को करने से मना करती हैं तो फिल्मी गलियारों में उनके गर्भ अवस्था होने की खबर सुर्खियों में छा जाती है। इतना ही नहीं बल्कि कई बार उन्हें डॉक्टर के क्लिनिक से निकलते हुए भी देखा गया है और इस अफवाह को बार-बार हवा मिल जाती है कि वह गर्भवती है। फिलहाल उन्होंने अब तक ऐसा कोई भी खुलासा मीडिया के सामने नहीं किया है।

विद्या बालन द्वारा प्राप्त उपलब्धियाँ (Vidya Balan Awards and Achievments)

  • अपने फिल्मी कैरियर के आरंभ में साल 2004 में बंगाली फिल्म के अभिनय के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए आनंद लोक पुरस्कार प्राप्त हुआ। उस बंगाली फिल्म का नाम भालो थेको था जिसके लिए उनके बेहतरीन अभिनय के लिए उन्हें सराहा गया।
  • सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के तौर पर उन्हें फिर से एक पुरस्कार से सम्मानित किया गया, यह अवार्ड उन्हें साल 2007 की फ़िल्म भूल भुलैया के लिए मिला था। इस फिल्म में उन्होंने एक अलग किरदार निभाया था जो प्रशंसकों को और बॉलीवुड के गलियारों में बैठे बॉलीवुड पंडितों को बेहद पसंद आया।
  • उनका अभिनय फिल्मों में ऐसा होता था कि उन्हें बेस्ट एंटरटेनमेंट अवॉर्ड भी प्राप्त हुआ जब साल 2010 में उनकी फिल्म डेढ़ इश्किया ने बड़े पर्दे पर कमाल दिखाया था।
  • साल 2010 में उन्होंने एक और अवार्ड अपने नाम किया वह अवार्ड उन्हें एक विचित्र अभिनय करने के लिए मिला जो उन्होंने फ़िल्म पा में 1 माँ के किरदार में निभाया। जीवन के संघर्षों को बड़े पर्दे पर उतार कर उन्होंने खुद को एक बेहतर अभिनेत्री के रूप में साबित कर दिखाया।
  • डर्टी पिक्चर में लोगों की निंदा सहने के बाद भी उन्होंने एक ऐसा किरदार निभाया जिसे देखकर प्रशंसक उनकी ओर आकर्षित हो गए और उनके चर्चे बॉलीवुड के गलियारों से लेकर हॉलीवुड के गलियारों तक छा गया तब उन्हें डर्टी पिक्चर के लिए साल 2011 में सर्वाधिक एंटरटेनमेंट अभिनेत्री के तौर पर राष्ट्रीय फ़िल्म पुरुस्कार से पुरस्कृत किया गया। उनके लिए यह बहुत बड़े सम्मान और गर्व की बात थी।
  • फिल्म कहानी में उन्होंने एक सिंगल मदर के रूप में प्रशंसकों का दिल अपने नाम किया। इस फ़िल्म के लिए उन्होंने फिल्म फेयर अवार्ड हासिल कर लोगों को दिखा दिया कि किस तरह से यह किरदार उनके लिए जीत हासिल करा सकता था। यह अवार्ड उन्हें साल 2013 में प्राप्त हुआ।
  • साल 2017 में फिल्म तुम्हारी सुलू के लिए भी उन्हें बहुत सराहना मिली जिसमें एक ग्रहणी ने अपनी इच्छाओं को उड़ान देते हुए एक नए रास्ते को चुना जिसके लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पीपल चॉइस अवार्ड मिला।

विद्या बालन के जीवन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Vidya Balan Interesting Facts)

 विद्या बालन जो सरल जीवन जीने वाले एक व्यक्तित्व हैं उनके बारे में कुछ ऐसे रोचक तथ्य हैं जो शायद आपको पता होना चाहिए। एक दिलचस्प व्यक्तित्व वाली महिला जो खुले विचारों से इस समाज को यह बताना चाहती है कि अपनी इच्छाओं को कभी भी अपने अंदर नहीं दबाना चाहिए. उनके बारे में कुछ ऐसी अनकही बातें हैं जो शायद आपने पहले कभी नहीं सुनी होगी तो चलिए जान लेते हैं….

  • अपने आरंभिक जीवन में उन्होंने मात्र 16 साल की उम्र में लगातार 90 विज्ञापनों के लिए काम किया था। जिसके लिए उन्होंने बैक टू बैक शूट किए और कभी भी निराश नहीं हुई और ना ही अपने जीवन में हार का सामना करने से कभी परेशान हुई और ना ही शर्मिंदा।
  • उनकी मां को उनका यह प्रोफेशन कम पसंद था लेकिन उन्होंने फिर भी हार नहीं मानी और सबकी सोच को पकड़ते हुए खुद को एक नई पहचान दे डाली।
  • विद्या बालन एक तमिलियन परिवार से संबंध रखते हैं लेकिन फिर भी उनका बंगाली भाषा से एक अटूट रिश्ता रहा है। उनके पति सिद्धार्थ रॉय कपूर आदि बंगाली है जो विद्या बालन का बंगाली भाषा की ओर झुकाव बेहद पसंद करते हैं।
  • उनके बारे में 1 रोचक तथ्य जो उनके प्रशंसक भी नहीं जानते होंगे वह यह है कि जब उन्होंने बॉलीवुड में परिणीता फ़िल्म के लिए ऑडिशन दिया तो उस समय उन्हें लगभग 40 स्क्रीन सूट और 17 मेकअप शूट देने पड़े। उसके बाद ही उन्हें बॉलीवुड के बड़े पर्दे पर अपनी पहली फिल्म साइन करने का सुनहरा मौका मिला।
  • उनका हमेशा से यही मानना है कि अपनी इच्छाओं को सर्वप्रथम महत्व देना चाहिए चाहे फिर उसके लिए समाज आपका साथ दे या ना दे, लेकिन जब आप अपनी इच्छा से आकाश की बुलंदियों को छू लेते हैं तो ब्रह्मांड में आपके खिलाफ बोलने वाले लोगों का मुंह खुद-ब-खुद बंद हो जाता है।
  • बॉलीवुड में सुल्लु के नाम से जानी जाने वाली विद्या बालन को स्वच्छता से बेहद प्यार है इसलिए अपने आसपास का माहौल साफ रखना उन्हें बेहद पसंद है।
  • विद्या बालन के बारे में एक सबसे महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि उन्हें अपने खाली समय में किताबों में शब्दों को पढ़ना बेहद पसंद हैं। उन्होंने किताबों के जरिए भी अपने जीवन को प्रैक्टिकल तौर पर जीने की सीख दी है और वहीं अधिकतर पसंद करती है।

विद्या बालन की बेहतरीन और खूबसूरत अभिनय के लिए उन्हें आरंभ से ही कई सारे पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है आने वाले समय में और साल 2019 की सफलता के बाद भी कयास यही जताए जा रहे हैं कि उन्हें फिर से एक बेहतर अभिनय के लिए अवार्ड से नवाजा जाएगा। विद्या बालन एक ऐसा व्यक्तित्व है जो समाज की प्रत्येक महिला के लिए एक मिसाल है जो अपने जीवन में फिल्मों के द्वारा महिला के प्रत्येक किरदार को निभाने में अपना पूरा समर्पण लगा देती हैं। एक ऐसी व्यक्तित्व है जिन्होंने समाज की प्रत्येक वर्ग की महिला के जीवन को बड़े पर्दे पर बहुत ही खूबसूरती से उतारा है जिसे समझने में दर्शकों को आसानी भी होती है और उन किरदारों के लिए उन्हें प्रशंसकों की बेहद सराहना भी मिलती है।

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *